छोटा बिजनेस प्लान कैसे बनाएं?

दोस्तों, यह बहुत अहम सवाल है कि एक अच्छा और छोटा बिजनेस प्लान कैसे बनाएं? क्योंकि आज के समय में सभी लोगों के पास बिजनेस आइडियाज तो होते हैं लेकिन पूर्ण रूप से उन्हें नहीं पता होता कि अपने बिजनेस को कैसे स्टार्ट करें, क्या-क्या करें, किन चीजों को इम्पलीमेंट करें ताकि बिजनेस ग्रो कर सकें और सफलता प्राप्त की जा सकें।

अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि हम आपको बताने जा रहे हैं कि स्‍मॉल बिजनेस प्‍लान कैसे बनाएं?, अगर इसके बावजूद भी आपको कोई परेशानी हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं, हम आपकी समस्या का तुरंत समाधान करने की कोशिश करेंगे।

हम में से अधिकांश लोगो के पास व्यवसाय से सम्बंधित बड़े-बड़े शानदार बिजनेस आईडिया होते है और हम अपना खुद का कारोबार शुरू करने के सपने देखते हैं लेकिन ज्यादातर लोग असफल होने के डर के कारण कभी भी अपने आईडिया को अमल में नहीं ला पाते हैं।

वही, कई लोग नौकरी छोड़कर अपना व्यवसाय शुरू करना चाहते है लेकिन पारिवारिक, सामाजिक और वित्तीय दबाव के कारण अपनी नौकरी को छोड़कर जोखिमपूर्ण व्यवसाय शुरू करने के विचार से ही घबरा जाते है और अपना बिजनेस प्लान बना करके भी इंप्लीमेंट नहीं कर पाते हैं।

बिजनेस करने की अद्भुत यात्रा

किसी भी बिजनेस को शुरू करने से लेकर करोड़ों की कंपनी बनाने तक की यात्रा एक बहुत ही कठिन लेकिन अमेजिंग सफ़र होता है।

इस यात्रा में आपको योजना बनानी होती है, कड़ी मेहनत करनी होती है, मुसीबतों का सामना करना होता है, समस्याओं का हल निकालना होता है, असफलता को स्वीकार करके उससे सीख लेनी होती है ।

शुरुआत में आपके सामने हजारों मुसीबतें आती है, लोग आपके आईडिया पर विश्वास नहीं करते, आप कई बार असफल होते है, कई बार आत्मविश्वास डगमगा जाता है।

लेकिन, इस अमेजिंग यात्रा में आपको हर बार गिरकर फिर से उठना होता है और फिर अचानक एक दिन आपके लिए सफलता के द्वार खुल जाते है और आपकी किस्मत बदल जाती है, आप अपने बिजनेस में इतनी तेज़ी से सफलता की सीढियाँ चढ़ते है कि आपको स्वंय पर विश्वास नहीं होता और देखते ही देखते आप बहुत बड़ा बिजनेस ब्रांड बन जाते है।

ऐसे बनाएं अपना स्मॉल बिजनेस प्लान

सबसे पहले तो यदि आप कोई भी छोटा बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो इसके लिए आपको अपने इंटरेस्ट को ध्यान में रखना होगा। कोई भी बिजनेस तभी सफल होगा जब आपको उसमें रूचि होगी और आप उसे दिल व लगन से करना चाहेंगे।

एक छोटा बिजनेस करने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए, आपको अपने बिजनेस को शुरू करने के लक्ष्य, बिजनेस के प्रकार, रणनीति, बिजनेस के लिए लोकेशन, व्यापर शुरू करने में कितना खर्चा होगा यह पता होना चाहिए।

बिजनेस का लक्ष्य 

सबसे पहले यह तय करें कि आप बिजनेस क्यों करना चाहते है, आपका व्यवसाय करने का आखिरी लक्ष्य क्या है, आप व्यवसाय के द्वारा क्या प्राप्त करना चाहते है और कितने समय में प्राप्त करना चाहते है?

क्या आप करोड़पति बनना चाहते है? क्या आपके व्यवसाय करने का अंतिम उद्देश्य अपने बिज़नेस के द्वारा लोगों की मदद करना है? ये सारी बातें आपको किलयर होनी चाहिए।

बिजनेस टाइप 

अब तय करें कि आप कौनसा बिजनेस करना चाहते है, आप कौनसा प्रोडक्ट बनाएंगे या कौनसी सर्विसेज प्रदान करेंगे?

क्या आप अपनी हॉबी को बिजनेस का रूप देना चाहतें है या फिर कुछ ऐसा करना चाहते है जिस क्षेत्र में आपको अच्छा अनुभव है? आपका बिजनेस आईडिया क्या है, आपका प्रोडक्ट क्या होगा, आपके कस्टमर कौन होंगे? आदि।

बिजनेस स्ट्रेटेजी 

अब तय करें की आपकी बिजनेस स्ट्रेटेजी क्या है?, आप कैसे अपने बिजनेस में सबसे अच्छे उत्पाद बनाएंगे या सेवाएं प्रदान करेंगे? 

कैसे आपका बिज़नेस आइडिया दूसरों से अलग है और आपके बिज़नेस आईडिया में ऐसी क्या खास बात है कि आपका बिजनेस पूरे मार्केट को बदल सकता है? आप कैसे अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाएंगे? आप किन-किन तरीकों से अपने व्यवसाय से पैसे कमा सकेंगे।

बिजनेस का स्थान

आप व्यवसाय कहाँ से करेंगे? क्या आप अपने घर से शुरुआत करेंगे या अपने व्यवसाय के लिए अलग से जगह लेंगे? आपके बिज़नेस के लिए कौनसी जगह सबसे अच्छी रहेगी?

आप भारत के किसी भी कोने से शुरुआत कर सकते हैं लेकिन अगर आपके पास पूंजी नहीं है तो आप अपने घर से भी ऑनलाइन शुरुआत कर सकते हैं और धीरे-धीरे ग्रोथ हासिल करते हुए उसे बड़ी सिटी की ओर ले जा सकते है।

बिजनेस के लिए पैसा

आपको अपने व्यवसाय को शुरू करने के लिए शुरुआत में कितने रूपयों की जरूरत होगी और इसके बाद, निरंतर रूप से बिजनेस को चलाने के लिए कितने रूपयों की जरूरत होगी, आपका व्यवसाय कितने समय बाद लाभ देना शुरू कर देगा?

आपके व्यवसाय की मौद्रिक आवश्यकताओं को निम्न प्रकार से विभाजित किया जा सकता है –

सम्पति – आपको अपने व्यवसाय के लिए कौन-कौन सी सम्पतियों की जरूरत पड़ेगी जैसे घर, जमीन, मशीनरी, फर्नीचर, वाहन आदि और आप इन सम्पतियों का इंतजाम कैसे करेंगे (खरीदेंगे या किराये पर लेंगे), इन सम्पतियों के लिए कितने रूपयों की आवश्यकता होगी? 

खर्चें – आपके बिजनेस को निरंतर रूप से चलाने के लिए कौन-कौन से खर्चें होंगे जैसे – कर्मचारियों की सैलरी, रखरखाव के खर्चें, किराया, विभिन्न प्रकार के कंसलटेंट की फीस आदि।

मार्केट को ढूंढना

अपने बिजनेस के मार्केट और इंडस्ट्री का रिसर्च कीजिए। आप विभिन्न तरीकों से रिसर्च कर सकते है – इन्टरनेट से जानकारी जुटाकर, कॉर्पोरेट्स या आपके आसपास वर्तमान छोटे-बड़े उद्यमियों से संपर्क करके, मार्केट के जानकारों से मिलकर या ई मेल करके, मार्केट की बड़ी-बड़ी कंपनियों की रिपोर्ट पढ़कर आदि।

मार्केट का रिसर्च करके यह पता लगाइए कि डिमांड और सप्लाई क्या है, सबसे ज्यादा कौनसा प्रोडक्ट बिक रहा है और क्यों? प्रोडक्ट में ऐसी कौनसी कमियां है जिसे अपने प्रोडक्ट में दूर करके मार्केट लीडर बना जा सकता है।

बिजनेस प्लान

अब अपना लिखित बिजनेस प्लान बनाएं और इसमें अपने बिजनेस से सम्बंधित सभी बातों को शामिल करें ।

अपने व्यवसाय की वितीय जरूरतों को पूरा करने के लिए स्त्रोतों का विश्लेषण करें। आपकी वितीय जरूरतें कैसे पूरी होंगी? रिश्तेदारों और दोस्तों से लोन लेंगे या फिर खुद के पैसे से ही व्यवसाय शुरू करेंगे?

आजकल स्टार्टअप फंडिंग के कई सारे नए-नए स्त्रोत उपलब्ध है जैसे एंजेल इन्वेस्टर्स, वेंचर कैपिटल फण्ड, क्राउड-फंडिंग आदि। वितीय स्त्रोतों का चुनाव कर लेने के बाद फंडिंग या लोन के लिए आवेदन करें और फंडिंग की प्रक्रिया को समझें। फंडिंग से सम्बंधित सभी डाक्यूमेंट्स और बिज़नेस प्लान का इंतजाम करें।

शुरू करें अपना छोटा बिजनेस

ऊपर बताई गई सभी बातों को फॉलो तथा वित्तीय जरूरतों का इंतजाम करने के बाद अपने बिजनेस को शुरू करने की और कदम बढ़ाएं। धीरे-धीरे अपने व्यवसाय के लिए सभी संसाधनों का इंतजाम करें – कर्मचारियों की नियुक्ति, सम्पतियों की खरीद, प्रोडक्शन से सम्बंधित सभी संसाधनों का इंतजाम आदि।

बिजनेस के लिए जब पूरी प्लानिंग हो जाती है और आपके पास पूंजी भी, तो इसके बाद अहम चरण होता है, बिजनेस प्लान को व्यवहार में लाना। इस दौरान सेलिंग और कस्टमर सर्विस आदि नए उद्यमी के लिए एसिड टेस्ट की तरह होता है।

इस दौरान आपको अपना शत-प्रतिशत कौशल दिखाना होगा, ताकि आप अपने सर्विस के प्रति लोगों में भरोसा कायम कर सकें। तभी आप अपनी सफलता की कहानी शुरू कर सकते हैं।

छोटा बिजनेस में सोशल मीडिया का रोल

टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करें और अपनी ऑनलाइन मार्केटिंग (Online Marketing) करें। सोशल मीडिया (Facebook, Tweeter etc) पर अपने बिज़नेस के बारे में लोगों को बताएं और विश्लेषण करें कि कैसे इन्टरनेट और टेक्नोलॉजी की मदद से व्यवसाय को तेजी से सफलता की ओर आगे बढ़ाएंगे।

अब आप एक तरह से अपना बिज़नेस शुरू कर चुके है। अब आपको लगातार मेहनत करनी है और अपने व्यवसाय को सफल बनाने के लिए नए-नए तरीके ढूढ़ने है। धीरे-धीरे अनुभव के आधार पर अपनी unique value proposition का निर्माण करें यानि कि ऐसी क्या बात है जो आपको दूसरों से अलग बनाती है ।

अपने व्यवसाय को निरंतर रूप से आगे बढ़ाते रहें और एक लीडर की तरह अपनी टीम का नेतृत्व करें अपने कर्मचारियों को कर्मचारी न समझकर अपने पार्टनर समझें और उनके सुख-दुख का हिस्सा बनें।

 छोटे बिजनेस के लिए आईडिया

आइसक्रीम बिजनेसफैशन आइटम बिजनेस
कॉस्मेटिक आइटम बिजनेसइलेक्ट्रॉनिक्स आइटम बिजनेस
मोबाइल सर्विस सेंटरफैंसी आइटम शोरूम
गारमेंट बिजनेसमोबाइल फोन स्टोर
टेलीविजन/एलईडी आइटमब्यूटी&फैशन पार्लर
खिलौने का बिजनेसगेम प्लेइंग सेंटर
टूर प्लानिंग एंड मैनेजमेंटटूर एंड ट्रैवल प्लानिंग सर्विस
होटल & गेस्ट सुविधाएँआर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस
रेडीमेड फ़र्नीचर का बिजनेसकिराने का बिजनेस
रेडीमेड कपड़े व गारमेंट शोरूमस्टेशनरी और किताबों की दुकान
मेडिकल एंड जनरल स्टोरकंपनी डॉक्यूमेंटेशन सर्विस
मनी मैनेजमेंट एंड सेविंग कंसल्टेंसीड्राइविंग प्रशिक्षण केंद्र
कंप्यूटर/लैपटॉप और एक्सेसरीज स्टोरस्पोर्ट्स टूर व्हीकल हायरिंग सर्विस
टूर अरेंजमेंट सर्विस एजेंसीमिठाई और नाश्ता सप्लाई
प्रोडक्ट डिजाइनिंग & प्रिंटिंगइलेक्ट्रिक फ्यूल स्टेशन
नूडल्स सप्लाई बिजनेसफ़ूड होम डिलीवरी
चाय और कॉफी स्टॉलट्यूब और टायर की दुकान
हेयर व ब्यूटी सैलूनकागज उत्पाद बिजनेस
जूते व बेल्ट का बिजनेसरेडीमेड फैंसी बैग बिजनेस
सैनिटाइजर का बिजनेसफास्ट फूड रेस्टोरेंट व कैफे
ऑटो पार्ट्स की शॉपइत्र या परफ्यूम का बिजनेस
ब्लॉगिंग करनायूट्यूब चैनल शुरू करना
एफिलिएट मार्केटिंगसोशल मीडिया कंसल्टेंसी
ग्राफिक डिजाइनिंग3D गेम & एनिमेशन
सोशल मीडिया सर्विससर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कंसल्टेंसी
डोमेन ख़रीदना और बेचनावर्चुअल असिस्टेंट
कंटेंट राइटिंगई-कॉमर्स स्टोर
चैटबॉट्स डेवलपरफैशन डिजाइन संस्थान खोलना
ऑनलाइन अंग्रेजी स्पोकन सेंटरऑनलाइन और ऑफलाइन लाइब्रेरी
सोशल मीडिया मार्केटिंग करनाब्लॉकचेन कंसलटिंग सर्विस
स्टॉक फोटोग्राफीसॉफ्टवेयर डेवलपमेंट
लीड जनरेशन सर्विसवॉयस-ओवर ट्रेनिंग सेंटर
ड्रॉपशिपिंग बिजनेसवेबसाइट डिजाइन/डेवलपर
ऐप डेवलपर एंड मैनेजिंग सर्विसस्टॉक ट्रेडिंग करना
फोटोग्राफी एंड वीडियोग्राफीइवेंट योजना और प्रबंधन
एयर बैलून ऑपरेटर सर्विसआयात और निर्यात परामर्श
हाउस सिटर सर्विस सेंटरसाबुन का बिजनेस
ट्यूशन सेंटर खोलनारूम रेंट सर्विस प्रदान करना
प्रॉपर्टी डीलर बननामशीन रिपेयरिंग सर्विस
प्लास्टिक रीसाइक्लिंग करनाडिस्पोजेबल आइटम बिजनेस
ग्रीन बिजनेस कंसल्टेंसीग्रीटिंग बिजनेस
होम केयर सेंटरयोग और ध्यान केंद्र
कला और शिल्प प्रशिक्षणआवश्यक तेल सप्लाई बिजनेस
टी-शर्ट डिजाइनिंग & प्रिंटिंग3डी प्रिंटिंग एंड डिजाइनिंग
ऑनलाइन टिकट बुकिंग केंद्रकैब हायरिंग सर्विस
मेंहदी डिजाइनिंग करनासीजनल डेकोरेशन करना
इंटीरियर एंड एक्सटीरियर डिजाइनिंगलकड़ी डिजाइनिंग करना
अकाउंटिंग और बुक कीपिंग करनालोकल बिजनेस कंसल्टेंसी सर्विस
छात्रावास सुविधाएं प्रदान करनावाहन पार्किंग सुविधा
ड्रोन प्रशिक्षण व सप्लाईकृषि परामर्श व सलाह देना

आप अपनी सुविधा और बजट के अनुसार एक छोटा बिजनेस प्लान करके किसी भी क्षेत्र से शुरुआत कर सकते हैं और ऊपर बताए गए छोटे बिजनेस के लिए आईडिया में से किसी एक को चुन कर अपनी बिजनेस जर्नी को आगे बढ़ा सकते हैं और पूरी ईमानदारी एवं लगन से मेहनत करते हुए सफलता की ओर आगे बढ़ सकते हैं।

हम आशा करते हैं कि आप लोगों की समस्याओं व आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए उन्हें हल करने के उद्देश्य से एक बेस्ट आइडिया चुनकर एक शानदार बिजनेस प्लान बनाएंगे और बहुत ही जल्द एक विश्व प्रसिद्ध बिजनेस कॉर्पोरेट ब्रांड बनने में सफल होंगे।