पंप एंड डंप घोटाला क्या है: यह स्टॉक व क्रिप्टो के लिए कैसे काम करता है?

पिछले कुछ महीनों में आपने मीडिया रिपोर्ट्स में पढ़ा होगा कि कैसे कुछ ऑपरेटरों ने कुछ कंपनियों के शेयर की कीमतों में धांधली की। इन ऑपरेटरों का मकसद फर्जी सकारात्मक खबरें फैलाकर इन कंपनियों के शेयर कम कीमत पर खरीदना था।

पंप एंड डंप घोटाला क्या है? (Pump and Dump Scam kya hai)

पंप और डंप निवेशकों को धोखा देने के लिए दो भागों के साथ एक जोड़ तोड़ योजना है। पंप वाले हिस्से में झूठी और भ्रामक सिफारिशों के माध्यम से स्टॉक की कीमत को कृत्रिम रूप से बढ़ाना शामिल है वही, डंप पार्ट में शेयरों को बढ़े हुए मूल्य पर बेचना या डंप करना शामिल है।

शेयर बाजार में निवेश करने वाले हर व्यक्ति को शेयर बाजार के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती है। वे ट्रेडिंग के लिए विशेषज्ञों की सलाह लेता है। कुछ लोग निवेशकों की इस आदत का फायदा उठाकर शेयरों से जुड़े गलत टिप्स देते हैं, जिसमें कई निवेशक फंस जाते हैं। शेयर बाजार में इसे पंप और डंप घोटाला कहा जाता है।

पंप एंड डंप स्कैम स्टॉक मार्केट के सबसे पुराने घोटालों में से एक है, आज भी कई निवेशक इनके द्वारा ठगे जा रहे हैं। आज सोशल मीडिया का इस्तेमाल ऐसे फेक स्टॉक टिप्स फैलाने के लिए किया जा रहा है। टेलीग्राम चैनल और व्हाट्सएप ग्रुप पर फैलाए जा रहे इन फेक टिप्स से जब स्टॉक रेट बढ़ता है तो ये लोग अपने शेयर बेचकर चले जाते हैं।

शॉर्ट एंड डिस्टॉर्ट – इस मामले में, स्कैमर पहले स्टॉक को अधिक कीमत पर बेचता है। फिर वह आलोचना और नकारात्मक भविष्यवाणियों का उपयोग करके कृत्रिम रूप से उस स्टॉक की कीमत कम करता है। एक बार जब स्टॉक की कीमत कम हो जाती है, तो स्कैमर स्टॉक को कम कीमत पर वापस खरीदकर अपनी शॉर्ट पोजीशन को कवर कर लेता है और इस तरह मुनाफा कमाता है।

पंप एंड डंप स्कैमर किन शेयरों को टारगेट करते हैं?

ऑपरेटर्स स्मॉल और माइक्रो-कैप शेयरों को टारगेट करते हैं क्योंकि इनके ट्रेडिंग वॉल्यूम कम होने व जनता के लिए सीमित कॉर्पोरेट जानकारियां उपलब्ध होने के कारण, इन कंपनियों में हेरफेर करना बहुत आसान होता है।

ये स्कैमर घटना को अंजाम देने के लिए सबसे पहले शेयर अपने पास रखते हैं। फिर वे विभिन्न माध्यमों से खरीदे गए शेयरों के बारे में गलत सूचना फैलाकर उनका मूल्य बढ़ाते हैं और अपने शेयरों को बढ़े हुए दामों पर बेच देते हैं, जिससे वे भारी मुनाफा कमाते हैं और भोले-भाले इन्वेस्टर इनकी चाल में फंस जाते है।

जालसाजों द्वारा प्रमुख रूप से कोल्ड कॉलिंग के जरिए पंप-एंड-डंप योजना को अंजाम दिया जाता है। इन दिनों, स्कैमर निम्न कार्य करते हैं: 1. लाखों ईमेल और एसएमएस भेजते है, 2. धोख देने के लिए YouTube चैनल बनाते है, 3. वेबिनार आयोजित करते है, 4. ट्विटर, व्हाट्सएप, टेलीग्राम और न्यूज़लेटर्स का उपयोग करते है।

क्रिप्टोकरेंसी में पंप एंड डंप स्कैम

स्टॉक मार्केट की तरह, क्रिप्टोकरेंसी में भी पंप और डंप योजनाएं फल-फूल रही हैं। क्रिप्टोकरेंसी वातावरण में पंप-एंड-डंप योजनाओं के सफल होने की अधिक संभावना है क्योंकि इनमें विनियमन की कमी है, कई क्रिप्टोकरेंसी में कम ट्रेडिंग वॉल्यूम और तरलता है और इसके साथ ही क्रिप्टो इंडस्ट्री को एक औसत उपयोगकर्ता के लिए समझना बहुत जटिल हैं।

घोटाला करने वाले स्कैमर्स के लिए क्रिप्टोकरंसी सबसे पॉपुलर ठिकाना बन गया है। अब स्टॉक मार्केट की तरह ही क्रिप्टो इंडस्ट्री में भी बढ़-चढ़कर Pump-And-Dump Scam हो रहे हैं इसीलिए अगर आप क्रिप्टो निवेशक है तो आपको इस प्रकार के विभिन्न घोटालों से बचने की जरूरत है और किसी के इशारे पर तुरंत निवेश नहीं करना चाहिए।

पंप और डंप घोटाले से कैसे बचें?

  • अनचाहे निवेश प्रस्ताव के बारे में अत्यधिक सतर्क रहें।
  • उच्च निवेश रिटर्न का वादा करने वाले प्रलोभन से बचें।
  • किसी तीसरे पक्ष की सलाह पर शोध किए बिना निवेश न करें।
  • ऐसे मामले से बचें, जहां सीमित अवसर के रूप में दबाव डाला जा रहा है।
  • कोई भी दावा किया जा रहा है कि सिफारिश अंदरूनी या गोपनीय जानकारी पर आधारित है।
  • सोशल मीडिया पर खास स्टॉक के बारे में बढ़ा-चढ़ा कर दी गई जानकारी से बचें।
  • निवेश करने से पहले विशेष स्टॉक और कंपनी के बारे में उचित जानकारी प्राप्त करें।

इस फ्रॉड से बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि सोशल मीडिया पर या कहीं भी मिलने वाले टिप्स के आधार पर तुरंत अपने शेयर न बेचें या न ही खरीदें। अगर आप जल्दबाजी में ऐसा करते हैं तो बहुत बड़ी धोखाधड़ी के शिकार हो सकते हैं।

अगर आपको स्टॉक मार्केट का ज्यादा अनुभव नहीं है तो आप लगभग 20 दिन तक 10 से 30 बेस्ट स्टॉक्स को एनालाइज करें और अच्छे परफॉर्म करने वाले कुछ स्टॉक्स में लॉन्ग टर्म के लिए निवेश कर सकते हैं।

इसमें कोई शक नहीं कि शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, लेकिन अगर आप शेयर बाजार में उचित ज्ञान और धैर्य के साथ काम करते हैं तो आपको करोड़पति-अरबपति बनने से कोई नहीं रोक सकता।

अगर आप स्टॉक मार्केट में नए हैं तो आपके लिए निवेश करने के बहुत सारे विकल्प है, आप म्यूचुअल फंड में निवेश शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा, रियल एस्टेट या गोल्ड में भी निवेश कर सकते हैं जो लगभग सुरक्षित निवेश माना जाता है।