डाकघर मासिक आय योजना के साथ अपने रिटर्न को अधिकतम करें

डाकघर मासिक आय योजना (Post Office Monthly Income Scheme) न केवल सबसे लोकप्रिय योजनाओं में से एक है बल्कि यह अपने ग्राहकों को मासिक आय की गारंटी भी देती है और ग्राहकों के निवेश को बिना किसी जोखिम के सुरक्षित भी रखती है।

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) पिछले कुछ वर्षों में, सभी उम्र के लोगों के लिए सबसे पसंदीदा निवेश योजना के रूप में उभरी है और यह भारत के गांवों एवं दूरदराज के इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए वरदान साबित हुई है।

यह विश्वसनीय डाकघर मासिक आय सरकारी योजना अपने खाताधारकों को एक निश्चित मासिक आय की गारंटी देती है। मासिक ब्याज हर महीने ग्राहक के बचत खाते में सीधे जमा किया जाता है।

क्या आप एक ऐसे निवेश विकल्प की तलाश कर रहे हैं जो अच्छा व सुरक्षित हो और छोटी लॉकिंग अवधि के साथ पर्याप्त रिटर्न अर्जित करने वाला हो, तो आप पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (POMIS) में निवेश करने पर विचार कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम एक ऐसी निवेश योजना है जो निवेशकों को 6.70% प्रति वर्ष की ब्याज दर पर गारंटीकृत रिटर्न के साथ निश्चित मासिक आय का वादा करती है।

डाकघर मासिक आय योजना की मुख्य विशेषताएं

  • डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) के लिए परिपक्वता अवधि 5 वर्ष है।
  • आदर्श रूप से, आपको अपनी निवेश राशि 5 साल बाद निकाल लेनी चाहिए।
  • POMIS अकाउंट एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • सबसे अच्छी बात यह है कि अकाउंट ट्रांसफर बिल्कुल मुफ्त किया जा सकता है।
  • प्रत्येक डाकघर जमा के लिए, आपको एक अलग पोस्ट ऑफिस बैंक खाता खोलना होगा।
  • अवधि के अंत में प्राप्त परिपक्वता राशि को POMIS में पुनर्निवेश किया जा सकता है।
  • निवेशक अपने डाकघर मासिक आय योजना खाते के लिए नॉमिनी नियुक्त कर सकता है।
  • POMIS पर अर्जित ब्याज कर योग्य है लेकिन यहां कोई टीडीएस (टैक्स डिडक्शन एट सोर्स) नहीं कटता है।

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) की ब्याज दरें

डाकघर मासिक आय योजना (MIS) की ब्याज दरें 01 अक्टूबर 2022 से मासिक देय (monthly payable) के साथ 6.7% प्रति वर्ष है।

एकल खाते में अधिकतम निवेश सीमा ₹ 4.5 लाख और संयुक्त खाते में ₹ 9 लाख है।

एक व्यक्ति संयुक्त खातों में उसके हिस्से सहित इस योजना में अधिकतम 4.5 लाख रुपये का निवेश कर सकता है।

संयुक्त खाते में किसी व्यक्ति के हिस्से की गणना के लिए, प्रत्येक संयुक्त खाते में प्रत्येक संयुक्त धारक का समान हिस्सा होता है।

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) कैसे काम करती है?

डाकघर मासिक आय योजना में निवेश करना बहुत आसान है, इसके लिए न्यूनतम दस्तावेज की आवश्यकता होती है। निवेशक पते के प्रमाण, पहचान प्रमाण, पासपोर्ट साइज फोटो, आधार कार्ड से अपना POMIS खाता खुलवा सकता है। निवेशक अपनी सुविधा के अनुसार व्यक्तिगत या संयुक्त खाते का विकल्प चुन सकता है।

नीचे दी गई तालिका न्यूनतम और अधिकतम राशि दिखाती है जिसे डाकघर मासिक आय योजना में निवेश किया जा सकता है।

अकाउंटनिवेश राशि
सिंगल अकाउंटमिनिमम ₹1,000 अधिकतम ₹4,50,000
ज्वाइंट अकाउंटमिनिमम ₹1,000 अधिकतम ₹9,00,000

पोमिस (POMIS) खाता कौन खोल सकता है?

  1. एक अकेला वयस्क
  2. संयुक्त खाता (3 वयस्क तक) (संयुक्त ए या संयुक्त बी))
  3. अवयस्क/विक्षिप्त व्यक्ति की ओर से अभिभावक
  4. अपने नाम पर 10 वर्ष से अधिक आयु का अवयस्क

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS) के लिए पात्रता मानदंड

POMIS स्कीम को उन निवेशको के लिए डिज़ाइन किया गया है जो निश्चित मासिक भुगतान के स्रोत की तलाश में है और जोखिम से बचना चाहते है।

यह योजना वरिष्ठ नागरिकों और सेवानिवृत्त लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए सबसे उपयुक्त है।

डाकघर मासिक आय योजना उन लोगों के लिए सबसे उपयुक्त है जो आय के दीर्घकालिक नियमित स्रोत चाहते हैं।

एक निवासी भारतीय निवेशक POMIS स्कीम का लाभ ले सकता है।

एनआरआई (NRI) डाकघर मासिक आय योजना में निवेश नहीं कर सकते हैं।

Post Office Monthly Income Scheme की सबसे अच्छी बात यह है कि एक 10 साल का नाबालिग भी अपने नाम पर POMIS खाता खोल सकता है।