Mutual Fund में NAV क्या है व इसकी गणना कब की जाती है?

क्या आप म्यूचुअल फंड में निवेश करने के बारे में सोच रहे हैं और जानना चाहते हैं कि म्यूचुअल फंड एनएवी क्या होती है और म्यूचुअल फंड में NAV की गणना कब व किस प्रकार की जाती है तो आज हम इस पोस्ट के माध्यम से इसके बारे में डिटेल में जानेंगे।

म्यूचुअल फंड में एनएवी क्या है? (Mutual fund me NAV kya hai)

एनएवी (NAV) का मतलब नेट एसेट वैल्यू है। यह म्यूचुअल फंड इकाइयों का बाजार मूल्य है। एनएवी म्यूचुअल फंड की प्रति यूनिट की कीमत है, जैसे शेयर बाजार में शेयर की कीमत होती है। म्यूचुअल फंड की कुल लागत प्रति यूनिट इस बाजार मूल्य पर निर्भर करती है।

यदि फंड मैनेजर फंड में सभी शेयरों के बाजार मूल्य को जोड़ता है और इसे कुल म्यूचुअल फंड इकाइयों की संख्या से विभाजित करता है, तो परिणामी आंकड़ा म्यूचुअल फंड में एनएवी होगा। (Total Assets -Liabilities divided by Number of Outstanding Units = NAV)

म्यूचुअल फंड खुदरा निवेशकों से पैसा इकट्ठा करते हैं और विभिन्न निवेश माध्यमों जैसे स्टॉक, डेट, बॉन्ड आदि में निवेश करते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप म्यूचुअल फंड के बारे में शुरुआती जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

ये म्यूचुअल फंड इकाइयों में विभाजित होते हैं और नेट एसेट वैल्यू (एनएवी) म्यूचुअल फंड की 1 यूनिट की कीमत होती है। यह एनएवी म्यूचुअल फंड कंपनी के पास मौजूद सभी संपत्तियों की वैल्यू का प्रतिनिधित्व करती है।

यह वह कीमत है जिस पर निवेशक फंड यूनिट खरीदते और बेचते हैं। अंतर्निहित परिसंपत्तियों या प्रतिभूतियों का बाजार मूल्य हर दिन बदलता है और तदनुसार म्यूचुअल फंड एनएवी भी प्रतिदिन बदलती हैं।

म्यूचुअल फंड हाउसों को अनिवार्य रूप से म्यूचुअल फंड स्कीम के आधार पर दैनिक या साप्ताहिक आधार पर नेट एसेट वैल्यू का खुलासा करना होता है। बाजार में म्यूच्यूअल फंड के विभिन्न प्रकार होने के कारण प्रॉपर प्लानिंग करनी पड़ती है।

एनएवी (NAV) की गणना कब की जाती है?

म्यूचुअल फंड के एनएवी की गणना शेयर बाजार के घंटों के दौरान नहीं की जा सकती क्योंकि अंतर्निहित प्रतिभूतियों (underlying securities) की कीमत लगातार बदलती रहती है। NAV शेयर की कीमत से पूरी तरह से अलग होती है।

एक बार क्लोजिंग बेल बजने और ट्रेडिंग डे खत्म होने के बाद एनएवी की गणना की जा सकती है। इसकी गणना उस दिन के लिए फंड की प्रतिभूतियों के समापन मूल्यों का उपयोग करके की जाती है।

कॉरपोरेट जगत में, केवल शुद्ध संपत्ति मूल्य पूरी कंपनी के प्रदर्शन को नहीं दिखा सकता है क्योंकि कंपनी का प्रदर्शन कई कारकों पर निर्भर करता है, जिनमें से शुद्ध संपत्ति मूल्य (NAV) एक प्रमुख घटक है।

यह कंपनी के प्रदर्शन के एक विशेष भाग के अनुपात को दर्शाता है। एक व्यक्ति के लिए समान, शुद्ध संपत्ति मूल्य बेमतलब (irrelevant) है क्योंकि यह कुल निवेश के बाजार मूल्य का प्रतिनिधित्व करता है न कि वर्तमान बाजार कीमत (market price) का।

म्युचुअल फंड एनएवी म्यूचुअल फंड के प्रदर्शन के बारे में स्टॉक की कीमत की तरह सटीक रूप से संकेत नहीं दे सकती है। अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करने की योजना बना रहे हैं, तो एनएवी को शॉर्टलिस्टिंग निर्णायक कारक न बनाएं।

केवल नेट एसेट वैल्यू के आधार पर किस म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहिए, इसका मूल्यांकन करना उचित नहीं है। आप प्रॉपर तरीके से नेट ऐसेट वैल्यू की कैलकुलेशन करके निवेश करने का ऑप्शन चुनें।

कम एनएवी का मतलब यह नहीं है कि म्यूचुअल फंड सस्ता है और निवेशक लाभ की स्थिति में हैं। यह शेयर बाजार में सूचीबद्ध शेयरों के बाजार मूल्य की तरह नहीं है।

यह केवल इकाइयों के वर्तमान मूल्य को दर्शाता है। जब उन प्रतिभूतियों की कीमतें अधिक होती हैं, तो इसका मतलब है कि फंड एनएवी अधिक है। इसके विपरीत, यदि इन प्रतिभूतियों की कुल कीमत कम है, तो फंड एनएवी कम है। एक उच्च शुद्ध संपत्ति मूल्य केवल योजना के सकारात्मक प्रदर्शन को दर्शाता है।

अंतर्निहित परिसंपत्तियों (underlying assets) का मूल्यांकन बंद कीमत (closing price) पर किया जाता है लेकिन कुछ परिसंपत्तियों और देनदारियों का मूल्य बाजार से प्रभावित नहीं होता है। ये देय व्यय, बैंक खाते में शेष, अल्पकालिक या दीर्घकालिक देनदारियां हो सकती हैं।

म्यूचुअल फंड के एनएवी की गणना आमतौर पर म्यूचुअल फंड या म्यूचुअल फंड हाउस द्वारा नियुक्त की गई फंड अकाउंटिंग फर्म द्वारा की जाती है।

सेबी के दिशा-निर्देशों के अनुसार, यह अनिवार्य है कि सभी म्यूचुअल फंड प्रत्येक कारोबारी दिन अपने एनएवी को एसेट मैनेजमेंट कंपनी की वेबसाइट पर अपडेट करके सार्वजनिक रूप से प्रदर्शित करें।

आपने “Mutual Fund में NAV क्या है?” और “म्यूचुअल फंड में नेट एसेट वैल्यू की गणना कब करें?”और “Mutual Fund NAV in Hindi” के बारे में एक संक्षिप्त जानकारी प्राप्त की है।

यह कीमत स्टॉक की कीमत नहीं है बल्कि यह सभी इकाइयों पर प्रति यूनिट औसत कीमत है, जो निवेशकों के लिए अपने निवेश प्रदर्शन का मूल्यांकन करना आसान बनाती है।

हालांकि, यह वास्तविक कीमत नहीं है लेकिन म्यूचुअल फंड स्कीम में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

इसलिए, कृपया निवेश करने से पहले म्यूचुअल फंड इकाइयों के शुद्ध संपत्ति मूल्य यानी NAV की जांच अवश्य करें। यह आपके लिए एक उचित म्यूचल फंड इन्वेस्टमेंट निर्णय लेने में मददगार साबित होगी।