क्या मैं एक स्टार्टअप शुरू कर सकता हूं?

भारत में पिछले 5-7 वर्षों से स्टार्टअप की बहुत चर्चा हो रही है और हर कोई सोच रहा है कि क्या मैं एक स्टार्टअप शुरू कर सकता हूं और क्या मैं स्टार्टअप शुरू कर बहुत सारे पैसे कमा सकता हूं?

इसका सीधा सा उत्तर है, हां आप स्टार्टअप शुरू कर सकते हैं और इससे बहुत सारे पैसे भी कमा सकते हैं लेकिन आपको बहुत कठिन मेहनत करनी पड़ेगी और हमेशा सीखते रहना होगा।

आज के डिजिटल युग में स्टार्टअप शुरू करना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन उसे लंबे समय तक बाजार में बनाए रखना और स्केल करना बहुत बड़ी बात है। इसलिए, आपको स्टार्टअप क्या है? और अधिकांश स्टार्टअप के विफल होने के कारण पता होने चाहिए।

किसी भी स्टार्टअप को शुरू करने से पहले आपको पूरी प्लानिंग करनी होती है और जो भी आइडिया आपके दिमाग में है उस पर अच्छी तरह से मंथन करना पड़ता है।

क्या मैं एक स्टार्टअप शुरू कर सकता हूं? (Can I start a startup?)

हां, लेकिन थोड़ा अपने दिमाग को रोके और सोचे कि –

  • क्या आप मेहनत करने के लिए तैयार है?
  • क्या आप लोगों को कुछ वैल्यू प्रदान करना चाहते है?
  • क्या आप लोगों की समस्याओं को हल करना चाहते है?
  • क्या आप असफल होने से डरते नहीं है?
  • क्या आप टेक्नोलॉजी के साथ चल सकते है?
  • क्या आप परिस्थितियों के अनुसार बदल सकते है?
  • क्या आप बहुत सारा तनाव सहन कर सकते है?
  • क्या आपके पास धैर्य है?
  • क्या आपके पास आत्मविश्वास है?
  • क्या आप आगे बढ़ कर काम कर सकते है?
  • क्या आप शुरूआत कर सकते है?
  • क्या आप लोगों के साथ मिलकर काम कर सकते है?
  • क्या आप अच्छे से प्रबंधन (Management) कर सकते है?
  • क्या आपने अपने फील्ड में कुछ बेसिक ज्ञान प्राप्त कर लिया है?
  • क्या आप ईमानदार है?
  • क्या आप लगातार सीखते रहना चाहते है?

अगर आपका उत्तर हां है तभी स्टार्टअप या अन्य बिजनेस शुरू करने के बारे में सोचे अन्यथा आप भी उन 90% लोगों में शामिल हो जाएंगे जो असफल हो जाते है और अपना कीमती समय व पैसे दोनों बर्बाद कर देते है।

स्टार्टअप शुरू करने के लिए

  • शुरुआत में बहुत मेहनत करनी पड़ती है,
  • बहुत तनाव लेना पड़ता है,
  • उसे अच्छे से इंप्लीमेंट करने के लिए शुरुआत में बहुत भागदौड़ करनी पड़ती है,
  • बहुत सारे लोगों से संपर्क करना पड़ता है।

इसीलिए, ज्यादा से ज्यादा सीखने पर फोकस करें, अपनी कम्युनिकेशन स्किल को बेहतर करने की कोशिश करें और जानें कि क्या मुझमें एक उद्यमी बनने के गुण हैं।

आपके अंदर जन्मजात एक उद्यमी बनने और स्टार्टअप शुरू करने के गुण हैं लेकिन हमारे परिवार वाले, एजुकेशन सिस्टम और आसपास का नकारात्मक माहौल हमें कभी भी एंटरप्रेन्योरशिप के गुण नहीं सिखाता है।

हमें शुरुआत से ही नौकरी करने के लिए तैयार किया जाता है। कभी भी स्टार्टअप या बिजनेस शुरू करने के बारे में नहीं सिखाया जाता इसीलिए हम इसके बारे में कभी भी नहीं सोचते।

हां, आप एक स्टार्टअप शुरू कर सकते हैं लेकिन इसके लिए प्रॉपर प्लानिंग बनानी पड़ेगी और इनिशियल फंडिंग की आवश्यकता होगी। किसी स्टार्टअप को शुरू करने या चलाने के लिए फंडिंग बहुत आवश्यक है।

कुछ स्टार्टअप अपना खुद का फंड लगाते है और कुछ किसी थर्ड पार्टी से लेते है। आप अपनी सुविधा के अनुसार नीचे बताएं गए कुछ स्टार्टअप फंडिंग के ऑप्शन से फंडिंग प्राप्त कर सकते हैं।

  • सेल्फ फाइनेंसिंग या सेल्फ फंडिंग
  • फ्रेंड्स और फैमिली से फंडिंग ले सकते है।
  • सरकारी योजना से फंडिंग प्राप्त कर सकते है।
  • सरकारी लोन के रूप में फंडिंग उठा सकते है।
  • बैंक और NBFCs से फंडिंग प्राप्त कर सकते है।
  • इनक्यूबेटर्स से स्टार्टअप फंडिंग ले सकते है।
  • एंजल इन्वेस्टर से फंडिंग प्राप्त कर सकते है।
  • क्राउडफंडिंग के माध्यम से पैसे इकट्ठा कर सकते है।
  • वेंचर कैपिटल फंड से फंडिंग ले सकते है।

ज्यादातर मामलों में कोई भी स्टार्टअप खुद के पैसों से ही शुरू होता है और जैसे-जैसे वह मार्केट में ग्रो होता है वैसे-वैसे उसको अपनी आवश्यकता के अनुसार स्टार्टअप फंडिंग मिल जाती है।

इसके लिए आपको स्टार्टअप प्लान बनाना पड़ेगा और निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए प्रोपर प्रजेंटेशन के साथ अपने इनोवेटिव आइडिया के बारे में और उसकी स्केलेबिलिटी के बारे में बताना पड़ेगा।

हमें उम्मीद है कि आप अपने दिमाग में घूम रहे इनोवेटिव आइडिया के जरिए लोगों की विभिन्न समस्याओं को हल करने का प्रयास करेंगे और अपना स्टार्टअप स्थापित करके शानदार ग्रोथ हासिल करेंगे और बिजनेस vs स्टार्टअप में तुलना करते हुए अच्छी ग्रोथ हासिल करेंगे।

हम आशा करते हैं कि आप लोगों की समस्याओं और आवश्यकताओं की पहचान कर उन्हें आधुनिक तकनीक से हल करने का प्रयास करेंगे और बहुत अच्छा लाभ मार्जिन अर्जित करने वाले एक बड़े प्रसिद्ध ब्रांड के रूप में पहचाने जाएंगे।