करियर के लिए सर्वाधिक मांग वाली विदेशी भाषाएं

करियर के लिहाज से सबसे ज्यादा मांग वाली विदेशी भाषाओं की लिस्ट में टॉप पर अंग्रेजी है, उसके बाद अन्य भाषाएं आती है। वास्तव में विदेशी भाषा सीखने और जानने के कई सारे फायदे हैं। दुर्भाग्य से, अधिकांश लोग विदेशी भाषा सीखने से चूक जाते हैं क्योंकि उन्हें सही मार्गदर्शन नहीं मिलता। दरअसल, विदेशी भाषा सीखने में ज्यादा समय नहीं लगता है।

आप कोई भी विदेशी भाषा अपने खाली समय में बिना कोई इन्वेस्टमेंट किए इंटरनेट की मदद से आसानी से सीख सकते हैं और पैसा कमाने के लिए सबसे अधिक मांग वाली विदेशी भाषाएं सीखकर अपना करियर बना सकते है। विश्व भर में विदेशी भाषा सीख कर आप अपना एक शानदार करियर बना सकते हैं और अपने फील्ड में एंटरटेनमेंट भी कर सकते हैं।

करियर के लिए सर्वाधिक मांग वाली विदेशी भाषाएं

क्या आपने कभी विदेशी भाषा सीखने के बारे में सोचा है, अगर नहीं तो यह पोस्ट आपके लिए है। विदेशी भाषा सीखने से विदेशों में और यहां तक कि भारत में भी नौकरियों और बिजनेस अवसर के कई नए रास्ते खुल जाते हैं। विदेशी भाषा सीखना जॉब प्राप्त करने वालों और बिजनेस प्रोफेशनल के लिए एक आवश्यक बिजनेस स्किल है।

कोई भी विदेशी भाषा आसानी से सीखी जा सकती है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस वर्ग के लोग हैं और कहां से आते है। बस, आपके अंदर सीखने का जुनून होना चाहिए। हम आपको अंग्रेजी को छोड़कर अन्य दूसरी हाई डिमांडिंग भाषाओं के बारे में बता रहे हैं।

स्पेनिश (Spanish)

स्पेनिश दुनिया में दूसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। स्पेनिश दुनिया भर के 20 से अधिक देशों में आधिकारिक और प्राथमिक भाषा है। आप स्पेनिश सीखकर फाइनेंस में करियर बनाने के अवसर भी प्राप्त कर सकते है।

स्पेन के अलावा, यह भाषा दक्षिण अमेरिका के लगभग हर देश में बोली जाती है। दुनिया की लगभग छह प्रतिशत आबादी स्पेनिश बोलती है। यदि आप पहले से ही अंग्रेजी जानते हैं तो स्पेनिश सीखना आसान है।

फ्रेंच (French)

फ्रेंच को दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली भाषा कहा जाता है। यह एक रोमांस भाषा है इसलिए, शिक्षार्थियों के बीच बहुत लोकप्रिय है। दुनिया में लगभग 300 मिलियन फ्रेंच भाषी हैं। फ्रेंच दुनिया भर के 29 देशों की आधिकारिक भाषा भी है।

अफ्रीका की लगभग 50 प्रतिशत आबादी अपनी पहली भाषा के रूप में फ्रेंच बोलती है। फ्रेंच भी लैटिन भाषाओं के एक समूह से ली गयी है। और इसकी लिपि रोमन है। फ्रेंच उच्चारण अन्य भाषाओं से बहुत अलग है, जिसमें आपको महारत हासिल करने की भी आवश्यकता होगी।

इटालियन (Italian)

इटालियन (इतालवी) दुनिया भर में लगभग 100 मिलियन लोगों द्वारा बोली जाती है। इटैल्यन भी दुनिया की रोमांस भाषाओं में से एक है। यह लैटिन मूल की भाषा है इसलिए इसे सीखना भारतीय लोगों के लिए काफी आसान है।

इटली यूरोपीय संघ का सदस्य देश है और भारत का एक महत्वपूर्ण सहयोगी और व्यापारिक भागीदार भी है, इसलिए यह भाषा आपके लिए बेहतरीन करियर अवसर हो सकती है।

पुतोंगहुआ (Putonghua)

पुतोंगहुआ चीन की आधिकारिक भाषा है। वास्तव में, यह आधुनिक मंदारिन चीनी भाषा का एक रूप है जो आमतौर पर प्रशासन और अन्य उद्देश्यों के लिए उपयोग की जाती है।

दुनिया की लगभग 12 प्रतिशत आबादी पुतोंगहुआ बोलती है। इस भाषा को बोलने और लिखने वाले लोगों की हर पेशे में मांग है, इसलिए आप इसे सीखकर अपना करियर बना सकते हैं।

अरबी (Arabic)

एक और महान भाषा अरबी है, जो दुनिया की लगभग चार प्रतिशत आबादी द्वारा बोली जाती है। अरबी मध्य पूर्व और अफ्रीका में स्थित 25 देशों की आधिकारिक भाषा है। अपने बेहतर बिजनेस करियर के लिए फॉरेन लैंग्वेज सीखना एक उद्यमी का महत्वपूर्ण गुण होता है, इसलिए एक नई शुरुआत के लिए अपने स्तर पर हिंदी और अंग्रेजी के अलावा कोई भी विदेशी भाषा सीखें।

भारतीय छात्रों के लिए अरबी भाषा सीखना आसान हो जाता है क्योंकि हिंदी में कई अरबी शब्द होते हैं। भारतीय छात्रों के लिए अरबी का ज्ञान बहुत महत्वपूर्ण हो सकता है क्योंकि यह आपके लिए कई अवसरों के द्वार खोल सकती है।

जापानी (Japanese)

जापानी तीन अलग-अलग लिपियों में लिखी जाती है: कांजी, हीरागाना और कटकाना। इसका मतलब है, जापानी में महारत हासिल करने के लिए, आपको तीनों लिपियों को सीखना होगा।

दुनिया भर में लगभग 150 मिलियन लोग जापानी बोलते हैं और इसे दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली भाषाओं में से एक भी माना जाता है। जापानी भाषा भी एक रोजगारोन्मुखी भाषा है और पूरी दुनिया में इसकी हमेशा मांग रहती है।

ड्यूश (Deutsch)

Deutsch जर्मनी और ऑस्ट्रिया की आधिकारिक भाषा का नाम है। इसे आमतौर पर जर्मन भाषा के रूप में जाना जाता है। भारत में हजारों छात्र कई कारणों से जर्मन पढ़ना चाहते हैं।

दुनिया में लगभग 150 मिलियन जर्मन भाषी हैं। यह दुनिया की 11वीं सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है। जर्मन इंडो-यूरोपीय भाषाओं में से एक है इसलिए, भारत में इसे सीखना आसान हो जाता है।

पुर्तगाली (Portuguese)

दुनिया में लगभग 250 मिलियन लोग पुर्तगाली बोलते हैं। भारत में कई पुर्तगाली भाषी भी हैं, मुख्यतः भारतीय राज्य गोवा और केंद्र शासित प्रदेश दमन और दीव में।

पुर्तगाली सीखना काफी सरल है क्योंकि यह भाषाओं के लैटिन परिवार से आती है और इसकी लिपि रोमन है। भारत और ब्राजील के बीच संबंध बढ़ रहे हैं इसलिए, यदि आप पुर्तगाली में धाराप्रवाह हैं, तो आपके लिए कई नौकरियों के अवसर हो सकते हैं।

आप इनके बारे में भी जान सकते है –

डिजिटल मार्केटिंग से पैसे कमाने के आसान तरीके

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए कौन सी डिग्री चाहिए?

बेशक, अंग्रेजी दुनिया में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली और हाई डिमांडिंग भाषा होने के साथ जॉब भी बहुत ज्यादा जनरेट करती है लेकिन इसके समानांतर स्पेनिश, फ्रेंच, जापानी, इटालियन आदि भाषाएं भी बहुत ज्यादा जॉब क्रिएट करती है और हमेशा डिमांड में रहती है इसीलिए आप अपनी सुविधा के अनुसार एक या एक से ज्यादा भाषाएं सीखकर अपने करियर को सेट कर सकते हैं।