आर्थिक रूप से स्वतंत्र कैसे बनें?

वित्तीय स्वतंत्रता एवं वित्तीय रूप से स्वतंत्र होने के लिए क्या करने की आवश्यकता है? यह एक बड़ा प्रश्न है। आप किसी भी एज ग्रुप से क्यों ना हो आपके मन में ये सभी प्रश्न अवश्य आते होंगे कि आर्थिक रूप से स्वतंत्र कैसे बनें, तो आज हम इसके बारे में जानने की कोशिश करेंगे।

Table of Contents

भारतीय नौजवान परंपरागत शिक्षा को अर्जित करते हुए सरकारी नौकरी के माध्यम से अपने आप को वित्तीय रूप से स्वतंत्र करना चाहता है लेकिन एक बार फिर से यह प्रश्न उठता है कि क्या सरकारी नौकरी से आर्थिक रूप से स्वतंत्र बना जा सकता है, क्या सरकारी नौकरी किसी व्यक्ति को बहुत अमीर बना सकती है? इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको जानना बहुत आवश्यक है।

वित्तीय स्वतंत्रता का क्या अर्थ है?

वित्तीय स्वतंत्रता का अर्थ अलग-अलग लोगों के लिए अलग-अलग हो सकता है लेकिन एक सामान्य परिभाषा के रूप में देखा जाए तो वित्तीय स्वतंत्रता वह है जो किसी व्यक्ति को आर्थिक रूप से काम किए बिना या बहुत कम काम करके अपनी सभी बेसिक आवश्यकताओं को अच्छी तरह से पूरा करने में सक्षम बनाना।

व्यक्ति आर्थिक रूप से स्वतंत्र कब माना जाता है?

एक व्यक्ति को आर्थिक रूप से तब स्वतंत्र माना जाता है जब वह अपने और अपने परिवार के सभी खर्चों को पूरा करने में सक्षम होता है और वह अपनी पसंद का विलासितापूर्ण या लग्जरी जीवन जीता है। भारत में लग्जरी लाइफ जीने वाले सिर्फ 15 से 20% लोग हैं, इसके अलावा हर कोई अपने स्तर पर आर्थिक रूप से संघर्ष कर रहा है।

वित्तीय रूप से स्वतंत्र होने के लिए कितने पैसे चाहिए?

इसके लिए कोई फिक्स अमाउंट नहीं है। अलग-अलग लोगों के लिए अपने वित्तीय गोल और लक्ष्यों के अनुसार अलग-अलग वित्तीय रूप से स्वतंत्र होने की परिभाषा होती है इसलिए कोई भी एक फिक्स अमाउंट तय नहीं कर किया जा सकता।

वित्तीय सलाहकारों के अनुसार, आर्थिक रूप से स्वतंत्र होना आपकी आय और व्यय पर निर्भर करता है, इसमें आपका कर्ज भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अगर आप पर जीरो कर्ज है तो आप लगभग आर्थिक आजादी की श्रेणी में आ जाते हैं।

क्या सरकारी नौकरी से वित्तीय रूप से स्वतंत्र बना जा सकता है?

सरकारी नौकरी आपके और आपके परिवार का बेसिक खर्चा निकाल सकती है और एक मजदूर से आपकी वित्तीय स्थिति थोड़ी अच्छी होती है। अगर पूर्ण रूप से आप वित्तीय स्वतंत्रता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको एक पूरी प्लानिंग के तहत बिजनेस करना होगा और अपनी बेस्ट सर्विस के माध्यम से लोगों की प्रॉब्लम सॉल्व करनी होगी जिससे आपको रिकरिंग इनकम जनरेट हो सके।

देश की अर्थव्यवस्था में वित्तीय स्वतंत्रता का क्या महत्व है?

जिस देश के लोग जितने अमीर होते हैं, उस देश की अर्थव्यवस्था उतनी ही मजबूत होती है। दुनिया के अन्य देश हमेशा उस देश में निवेश करने के लिए आकर्षित होते हैं और उस देश के मजबूत मुद्रा भंडारण के कारण, उस देश की मुद्रा पूरी दुनिया में बढ़ जाती है और उसका पालन पूरी दुनिया में किया जाता है।

जब किसी देश के लोगों की प्रति व्यक्ति आय अधिक होती है, तो अधिक क्रय शक्ति (purchasing power) के कारण उस देश की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ती है। उदाहरण के लिए, संयुक्त राज्य अमेरिका की प्रति व्यक्ति आय दुनिया में सबसे अधिक है, इसलिए आज यह दुनिया में आर्थिक और टेक्नोलॉजी के मामले में नंबर वन पर है।

वित्तीय स्वतंत्रता कैसे प्राप्त करें?

वित्तिय स्वतंत्रता प्राप्त करने के लिए आपके पास तीन ऑप्शन होते हैं 1. नौकरी 2. बिजनेस 3. नौकरी+बिजनेस

नौकरी

भारत में एजुकेशन सिस्टम ऐसा बनाया गया है कि 90% स्टूडेंट नौकरी के लिए तैयार होते हैं। आप इस तरीके को फॉलो कर सकते हैं और एक लिमिटेड वित्तिय स्वतंत्रता प्राप्त कर सकते हैं।

लिमिटेड या सीमित वित्तिय स्वतंत्रता का मतलब आप अपने व्यक्तिगत खर्चें आसानी से निकाल पा रहे हैं और किसी भी प्रकार का लग्जरी खर्चा करने में आप सक्षम नहीं है।

बिजनेस

बिजनेस वित्तिय स्वतंत्रता का सबसे अच्छा माध्यम है लेकिन एजुकेशन सिस्टम में डिफॉल्ट होने के कारण भारत में नए बिजनेस और स्टार्टअप बहुत ही कम मात्रा में जनरेट हो रहे।

टेक्नोलॉजी के विकास के कारण पिछले 10 सालों में बिजनेस व स्टार्टअप की संख्या बढ़ी है जिससे भारतीय बाजार में रोजगार भी बढ़ा है और भारतीय युवाओं के नए आइडिया पर काम करने से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश भी बढ़ा है।

नौकरी+बिजनेस

आज आधुनिक तकनीक ने जॉब+बिजनेस दोनों काम एक साथ करने का मौका भी दे दिया है। आप अपने ज्ञान के आधार पर समय को विभाजित करके नौकरी+व्यापार दोनों कर सकते हैं।

भारतीय युवा इंटरनेट और वर्तमान तकनीक का लाभ उठाकर खुद को आर्थिक रूप से स्वतंत्र बना रहे हैं और अपने पैसे को बढ़ाने के लिए रियल एस्टेट, शेयर बाजार, व्यापार, स्टार्टअप आदि में भी निवेश कर रहे हैं।

आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनने के मुख्य स्टेप्स

आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने के लिए आप नीचे बताए गए महत्वपूर्ण स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं और समय के साथ अपने आप में इंप्रूव करते हुए फाइनेंसियल फ्रीडम प्राप्त कर सकते हैं।

बेसिक शिक्षा प्राप्त करें

पैसे कमाने और वित्तीय सफलता प्राप्त करने के लिए आपको ज्यादा हाई एजुकेटेड या उच्च शिक्षित होने की कोई आवश्यकता नहीं है, आपको बेसिक शिक्षा प्राप्त करनी चाहिए जिससे आप किसी के बहकावे में ना आएं और अपने स्वयं के निर्णय खुद ले सकें।

समय के साथ बदलते रहें

समय और टेक्नोलॉजी के साथ अपने आप को बदलना जरूरी है। अगर आप एडवांस टेक्नोलॉजी के साथ नहीं चलते हैं और समय की मांग के अनुसार अपने आप में बदलाव नहीं करते हैं तो आप वहीं पर अटक जाएंगे और कभी भी फाइनेंशियल रूप से फ्रीडम प्राप्त नहीं कर पाएंगे।

नए हुनर ​व स्किल सीखें

आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने के लिए आपको बाजार की मांग के अनुसार नए कौशल सीखने होंगे और अपने आप को बेहतर करते हुए अपने दिमाग का विस्तार करना होगा। आज के इंटरनेट युग में 80% ज्ञान मुफ्त में उपलब्ध है, बस आपको उस ज्ञान का सही उपयोग करना है।

शुरुआत करना व एक्शन लेना

स्किल को सीखते हुए शुरुआत करना बहुत आवश्यक है और अपने अनुभव के आधार पर मार्केट की आवश्यकता के अनुसार बेस्ट एक्शन लेना भी उतना ही इंपोर्टेंट है। कोई भी व्यक्ति किसी भी फील्ड में परिपूर्ण नहीं होता है इसीलिए कभी भी पूर्ण होने की कोशिश ना करें।

अपने पैसों को री-इन्वेस्ट करें

कोई भी व्यक्ति तब तक आर्थिक रूप से मुक्त नहीं हो सकता जब तक कि वह उचित योजना बनाकर अपने धन का पुनर्निवेश नहीं करता। क्योंकि, बाजार में मुद्रास्फीति की दर बहुत तेजी से बढ़ रही है और इसे कवर करने के लिए उचित योजना के साथ निवेश करना बहुत जरूरी है। इसके लिए आप म्यूचुअल फंड, शेयर बाजार, रियल एस्टेट, सोने में निवेश कर सकते है या अपने मौजूदा कारोबार का विस्तार कर सकते है।

किसी भी प्रकार का नशा नहीं करना

वित्तीय रूप से स्वतंत्र होने के लिए सबसे जरूरी है आपका स्वास्थ्य। जब आप स्वस्थ रहेंगे तो आप अच्छा परफॉर्म करेंगे और बहुत पैसे कमा पाएंगे। इसके लिए आपको एकदम नशा-मुक्त होना है और किसी भी प्रकार का नशा नहीं करना है। अगर आप नशा करते हैं तो आपका दिमाग कमजोर होने लगेगा और आप कभी भी आर्थिक रूप से अमीर नहीं बन पाएंगे।

अपने खर्चों को कम से कम रखना

आपके खर्च जितने कम होंगे, आपकी बचत उतनी ही अधिक होगी और आप आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने की श्रेणी में शामिल होने के पात्र होंगे। अगर आपके पास जरूरत से ज्यादा बचत होगी तो आपका दिमाग ठीक से काम करेगा और आप नए बिजनेस आइडिया और टेक्नोलॉजी की मदद से स्टार्टअप्स में निवेश करने के बारे में सोचेंगे।

कभी भी ऋण व कर्ज नहीं लेना

दिमागी तौर पर वित्तीय रूप से स्वतंत्र होने का सबसे बेस्ट प्रयास है ऋण मुक्त रहना। अगर आप भी ऋण लेने की सोच रहे हैं या आपने ऋण ले रखा है तो आज से अपने कर्ज को उतारने के बारे में सोचें और उसे दोबारा कभी लेने की ना सोचें क्योंकि ऋण से आपके ऊपर अनावश्यक वित्तीय दबाव पड़ता है।

आर्थिक रूप से स्वतंत्र कैसे बनें?

वित्तीय स्वतंत्रता प्राप्त करना या आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनना आज के इस डिजिटल युग में कोई मुश्किल काम नहीं है। आप 5 साल के अंदर इस लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं। बस, आपमें सीखने की जिज्ञासा होनी चाहिए और उचित दिशा में धैर्य के साथ मेहनत करने की क्षमता होनी चाहिए।

आज आप टेक्नोलॉजी की मदद से परंपरागत बिजनेस को नए तरीके से मार्केट में पेश कर सकते हैं या फिर बहुत सारे ऑनलाइन बिजनेस आइडियाज है जिनकी सहायता से आप अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

ऑनलाइन बिजनेस आइडिया में ब्लॉगिंग, यूट्यूब चैनल, ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी, एनएफटी आर्ट, वेब और ऐप डेवलपमेंट, ग्राफिक डिजाइन, ई-कॉमर्स साइट, ड्रॉपशीपिंग, डिजिटल मार्केटिंग आदि प्रमुख हैं। आप अपने घर से शुरुआत करके एक बहुत बड़ा बिजनेस ब्रांड बना सकते हैं, इनके कई उदाहरण आपको इंटरनेट पर मिल जाएंगे।

आर्थिक रूप से स्वतंत्र होने का सबसे आसान तरीका है बिजनेस लेकिन ज्यादातर लोग बिजनेस करने से डरते हैं क्योंकि वे रिस्क लेना नहीं चाहते और बहुत ज्यादा मेहनत नहीं करना चाहते।

इसका सबसे बड़ा दोषी हमारे आसपास का वातावरण है जो हमें कुछ हटकर करने से रोकता है। ज्ञान की कमी के कारण हमें जो बताया जाता है उस चीज को ही ज्यादातर लोग फॉलो करते हैं और उसी पथ पर चलने की कोशिश करते हैं।

हम आशा करते हैं कि आप आज से ही अपना खुद का वित्तीय स्वतंत्रता दिवस घोषित करें कि मैं आज से पैसे बचाने और उन्हें उचित जगह निवेश करने की कोशिश करूंगा और कोई भी गलत आदत या नशा आज से ही छोड़ दूंगा। हम पूरे दिल से उम्मीद करते हैं कि आपकी सफलता आपका इंतजार कर रही है बस आपको सही निर्णय लेने की आवश्यकता है।

कुछ बेसिक स्टेप्स को फॉलो करके आप अपने आप को भी वित्तीय स्वतंत्र बना सकते हैं, यह पॉसिबल है। आप अपनी इच्छा के अनुसार वित्तीय स्वतंत्र होकर के एक विलासितापूर्ण जीवन जी सकते हैं और अपनी इच्छा के अनुसार समाज हित में कोई भी कार्य कर सकते हैं। आज के जमाने में कुछ भी असंभव नहीं है। बस, आपमें आत्मविश्वास, अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की तीव्र इच्छा और हमेशा सीखते रहने की ललक होनी चाहिए।