इलेक्ट्रॉनिक आइटम का बिजनेस कैसे शुरू करें?

सदाबहार और हाई डिमांड वाले बिजनेस की बात की जाए तो इलेक्ट्रॉनिक आइटम का बिजनेस करना आपके लिए उपयुक्त माना जाएगा क्योंकि यह हर घर में प्रयोग में आने वाली चीजों पर आधारित होने के कारण हर समय इसकी डिमांड बनी रहती है और प्रॉफिट भी बहुत अच्छा कमाया जा सकता है।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम का बिजनेस करने पर आपको 20 से 120% तक का प्रॉफिट हो सकता है। आप इस काम को अपनी सुविधा के अनुसार होलसेल, रिटेल, ऑनलाइन, ऑफलाइन या कमीशन बेसिस पर आदि तरीकों से कर सकते हैं, इस आधार पर प्रॉफिट मार्जिन अलग-अलग हो सकता है।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम का बिजनेस शुरू करने के लिए मुख्य स्टेप्स

इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम्स का काम हर जगह हाई डिमांड में रहने और हर जगह चलने के कारण इसको आप भारत के किसी भी कोने में शुरू कर सकते हैं। इस काम को शुरू करने के लिए हम आपको कुछ महत्वपूर्ण स्टेप्स बता रहे है जिनके माध्यम से आप इस बिजनेस आइडिया को अमल में लाकर अच्छे पैसे कमा सकते है।

  • अपना बजट तय करें – अपना बजट तय करें और उसके अनुसार प्लानिंग बनाकर के अपनी स्टोर या होलसेल बिजनेस को स्थापित करें।
  • स्थान की पहचान करें – किसी भी शॉप या बिजनेस के लिए स्थान और एरिया का महत्वपूर्ण रोल होता है इसीलिए अपना काम अच्छे स्थान को चुनकर शुरू करें।
  • इलेक्ट्रॉनिक स्टोर का किराया तय करें – किराया एरिया और साइज के अनुसार अलग-अलग होता है इसीलिए इसके बारे में मकान मालिक के साथ आसपास के दुकानदारों से भी जानकारी प्राप्त करें।
  • फर्नीचर और इंटीरियर सेटअप करें – इलेक्ट्रॉनिक आइटम स्टोर, शॉप, बिजनेस के लिए अपने बजट व आवश्यकता के अनुसार व्यवस्थित सामान के लिए फर्नीचर व इंटीरियर सेट करें।
  • इलेक्ट्रॉनिक मार्केट की पहचान करें – उचित और होलसेल रेट पर इलेक्ट्रॉनिक आइटम खरीदने के लिए आपको अपने नजदीकी शहर में इलेक्ट्रॉनिक मार्केट की पहचान करनी चाहिए ताकि आपको उचित कीमत पर और आसानी से माल आपके बिजनेस स्थल तक पहुंच सकें।
  • अपने बिजनेस का रजिस्ट्रेशन करवाएं – आपको अपने इलेक्ट्रॉनिक शॉप, स्टोर, दुकान, शोरूम या होलसेल बिजनेस का लीगल तरीके से रजिस्ट्रेशन करवाना चाहिए और ब्रांड अवेयरनेस पर ध्यान देना चाहिए।
  • अपने बिजनेस के GST नंबर प्राप्त करें – आज GST नंबर लगभग हर छोटे और बड़े व्यापार के लिए आवश्यक हो गए हैं, इसलिए यदि आप किसी भी तरह का इलेक्ट्रॉनिक आइटम व्यवसाय शुरू करने जा रहे हैं तो आपको GST नंबर प्राप्त करने चाहिए।
  • अपने बिजनेस की मार्केटिंग करें – अपना इलेक्ट्रिक आइटम व्यवसाय स्थापित करने के बाद, आपको एक अलग मार्केटिंग बजट बनाना चाहिए और विभिन्न तरीकों से ऑफ़लाइन और ऑनलाइन मार्केटिंग करनी चाहिए।
  • ग्राहकों तक पहुंच बनाएं – अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए, ग्राहकों से संपर्क करें और उनकी आवश्यकताओं के अनुसार प्रोडक्ट डिमांड को पूरा करें और ग्राहकों का सम्मान करना कभी ना भूलें।
  • अपने बिजनेस का विस्तार करें – प्रॉपर तरीके से सेटअप करने के बाद अपने इलेक्ट्रॉनिक बिजनेस को कुछ समय बाद विस्तार करने की प्लानिंग बनाएं और धीरे-धीरे फ्रेंचाइजी बिजनेस मॉडल के तहत या अपनी खुद की ब्रांचों के माध्यम से उसका विस्तार करना शुरू करें।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम का बिजनेस कितने रुपए में शुरू किया जा सकता है?

इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम्स का बिजनेस शुरू करने के लिए आपके पास कम से कम निवेश ₹80,000 होना चाहिए, जिसके माध्यम से आप बहुत कम इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स के साथ एक छोटी दुकान या स्टोर शुरू कर सकते हैं।

इसके अलावा, आप अपने बजट के अनुसार कितना भी निवेश कर सकते हैं। यह आपकी फाइनेंशियल कैपेसिटी पर निर्भर करता है। फिर भी, आपके पास एक अच्छा स्टोर या शोरूम शुरू करने के लिए कम से कम 6 से 10 लाख रुपये होना चाहिए।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम बिजनेस में कितना लाभ होता है?

इलेक्ट्रॉनिक बिजनेस आइटम हमेशा हाई डिमांड और सदाबहार बिजनेस की श्रेणी में आता है इसीलिए आपको यहां लॉस होने की संभावना बहुत कम है और अगर उचित प्लानिंग से इस बिजनेस की तैयारी की जाएं तो इस बिजनेस के चलने की पूरी संभावना होती है।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम बिजनेस में प्रॉफिट अलग-अलग बिजनेस कैटेगरी के अनुसार होता है लेकिन फिर भी अगर एक औसत निकाला जाए तो आपको 20 से 120% तक लाभ मार्जिन होने की पूरी संभावना है।

प्रॉफिट मार्जिन निम्नानुसार हो सकता हैः

  • होलसेल – 15-40%
  • रिटेल – 20-120%
  • ऑनलाइन – 20-80%
  • कमीशन बेसिस – 20-40%

इलेक्ट्रॉनिक बिजनेस में प्रॉफिट मार्जिन आपके एरिया, मार्केटिंग स्किल, कस्टमर बेस आदि के अनुसार अलग-अलग हो सकता है इसीलिए शुरुआत करने से पहले कृपया प्रॉपर प्लानिंग बना लें और अपने बजट के अनुसार धीरे-धीरे काम को शुरू करने की कोशिश करें।

क्या एक छोटे इलेक्ट्रॉनिक स्टोर या दुकान का रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है?

नहीं, एक छोटे इलेक्ट्रॉनिक स्टोर, शॉप या दुकान जिसका वार्षिक टर्नओवर 20 लाख रूपये से कम है उसको रजिस्ट्रेशन करवाने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन, जब आपके स्टोर का वार्षिक टर्नओवर 20,00,000 रुपए से ज्यादा हो जाता है तो आपको जीएसटी नंबर लेने की आवश्यकता होती है।

क्या इलेक्ट्रॉनिक आइटम शोरूम या बड़े बिजनेस का रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक है?

हां, इसके लिए आपको जीएसटी नंबर लेने की शुरुआत से ही आवश्यकता होती है और अपने बिजनेस या शोरूम का फर्म, प्राइवेट कंपनी, सोल प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप फर्म, वन पर्सन कंपनी आदि के रूप में रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक होता है।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम बिजनेस का विस्तार कैसे करें?

इसके लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन मीडियम का सहारा ले सकते हैं। ऑनलाइन तरीके से आप अपने बिजनेस का विस्तार करते हैं तो आपको खर्चा ऑफलाइन के मुकाबले आधा ही पड़ेगा।

अगर आप अपने व्यापार का विस्तार ऑफलाइन माध्यम से करना चाहते हैं तो आप विभिन्न शहरों में अपनी खुद की ब्रांचें शुरू कर सकते हैं या फिर आप फ्रेंचाइजी मॉडल के तहत लोगों को फ्रेंचाइजी ऑफर कर सकते हैं और अपने बिजनेस को एक्सपेंड कर सकते हैं।

हमारी सलाह के अनुसार, आपको अपने बजट के अनुसार इलेक्ट्रॉनिक आइटम शॉप, स्टोर, दुकान या शोरूम शुरू करना चाहिए और कुछ लाभ कमाने के बाद, इसे ऑनलाइन माध्यम से धीरे-धीरे विस्तार करने का प्रयास करना चाहिए। इसके लिए, आप अपनी खुद की वेबसाइट बना सकते हैं और विभिन्न सोशल मीडिया पर अपने ब्रांड नाम को प्रमोट कर सकते हैं।

3-5 साल बाद जब आप अच्छी कमाई करने लग जाएं तो आप इसे ऑफलाइन माध्यम से विस्तार करने के बारे में सोच सकते हैं। जिनमें आप अलग-अलग क्षेत्रों में अपनी ब्रांचें स्थापित कर सकते हैं या लोगों को फ्रेंचाइजी ऑफर कर सकते हैं। आपके इलेक्ट्रॉनिक आइटम स्टोर, दुकान, शोरूम या बिजनेस का विस्तार करने का यह एक सही तरीका हो सकता है।

कृपया, अपने काम को शुरू करने से पहले प्रॉपर तरीके से मार्केट रिसर्च कर ले और सभी प्रोडक्ट के बारे में उचित जानकारी प्राप्त कर ले, उसके बाद ही अपने बजट के अनुसार इस फील्ड में आगे बढ़ने की कोशिश करें।

अपने इलेक्ट्रॉनिक आइटम बिजनेस को होलसेल, रिटेल या कमीशन बेसिस पर शुरू करने के लिए किसी भी प्रकार की जल्दबाजी न करें और प्रॉपर नॉलेज प्राप्त करने की कोशिश करें ताकि आपको बाद में किसी भी प्रकार की समस्याओं का सामना ना करना पड़े और आप बहुत जल्द ही सफलता की ओर अग्रसर हो सकें।