बिजनेस नैतिकता – बिजनेस में सफलता का मंत्र व राज

बिजनेस में सफलता का एकमात्र मंत्र या राज, अपने बिजनेस में बिजनेस नैतिकता को पूर्ण रूप से फॉलो करना है। बिजनेस नैतिकता के बिना कोई भी बिजनेस, स्टार्टअप, व्यवसाय, व्यापार या उद्यमिता बाजार में लंबे समय तक नहीं चल सकती। इसीलिए, अगर आप कोई भी व्यापार करने की सोच रहे हैं और अच्छी ग्रोथ हासिल करना चाहते हैं तो आपको व्यावसायिक नैतिकता (Business Ethics in Hindi) का पालन करना होगा।

बिजनेस नैतिकता या व्यावसायिक नैतिकता क्या है?

बिजनेस को सफल बनाने के लिए ग्राहक और समाज को ध्यान में रखते हुए हमारे द्वारा बनाए गए नियमों को बिजनेस नैतिकता कहा जाता है, अगर हम इन नियमों का पालन नहीं करते है तो हमारा बिजनेस कभी भी बाजार में लंबे समय तक नहीं टिक सकता।

हर बिजनेस करने वाले की यह जिम्मेदारी बनती है कि जो भी काम किया जाए समाज के हित को देखते हुए किया जाए अन्यथा यह समाज एक दिन हमारे बिजनेस को नजरअंदाज कर देगा और आप बुरी तरह से असफल हो जाएंगे।

बिजनेस नैतिकता कानून द्वारा थोपी नहीं जा सकती है, कानून तो ग्राहक को एक कानूनी अधिकार प्रदान करता है कि ग्राहक के साथ कोई धोखा नहीं हो और जब कभी भी ग्राहक को यह महसूस होता है कि उसके साथ धोखा हुआ है तब वह कानून की मदद से अपने आप को सुरक्षित कर सकता है जबकि बिजनेस नैतिकता किसी बिजनेस को अच्छी ग्रोथ दिलाने और बाजार में लंबे समय तक बनाए रखने में मदद करती है।

कोई भी बिजनेस चाहे वह मैन्युफैक्चरिंग, होलसेल, रिटेल या कोई सर्विस प्रदाता हो, उस बिजनेस को प्रकृति और समाज के हितों को ध्यान में रखना ही होगा क्योंकि जब प्रकृति और समाज सुरक्षित रहेंगे तभी हमारा बिजनेस सुरक्षित रह पाएंगा इसलिए कोई भी काम करें सबसे पहले इनके बारे में सोचें।

बिजनेस में सफलता के लिए बिजनेस नैतिकता के नियम

किसी भी बिजनेस को सफल बनाने के लिए इन नियमों का पालन करना ही होगा जिसे बिजनेस की भाषा में बिजनेस नैतिकता कहा जाता है। आइए हम कुछ नियमों के बारें में डिस्कस करते है जिन्हें आप अपने व्यापार में अपनाकर लोगों को अच्छी सेवा प्रदान कर सकते है और बिजनेस को ग्रो करते हुए बाजार में लंबें समय तक बनाए रख सकते है।

अच्छी गुणवत्ता प्रदान करना

आप कोई भी प्रोडक्ट बनाते है तो उन प्रोडक्ट की गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए अच्छे क्वालिटी वाले प्रोडक्ट ही बनाएं जो लोगों के लिए फायदेमंद हो और संतुष्टि प्रदान करने वाले हो। अगर आप ऐसा नहीं कर पाते है तो आपका बिजनेस थोड़े समय के लिए पैसे कमा सकता है लेकिन धीरे-धीरे आपकी बिजनेस ग्रोथ कम होने लगेगी और कुछ समय बाद आपको वह बिजनेस बंद करना पड़ेगा।

अगर आप कोई सर्विस प्रदान करते है तो लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए अच्छी गुणवत्ता युक्त सर्विस दे क्योंकि जब तक आपका ग्राहक आपकी सर्विस से संतुष्ट नहीं होगा तो वह दूसरी बार आपकी सर्विस नहीं लेगा। आपकी सर्विस से सामने वाले की समस्या खत्म होनी चाहिए और जब कभी भी उसको मदद की जरूरत पड़े तब तुरंत मदद उपलब्ध होनी चाहिए ताकि ग्राहक को लगे की इस कंपनी या बिजनेस की सेवा अच्छी है और जब आवश्यकता पड़ती है तो तुरन्त मदद मिलती है।

आज आधे से ज्यादा बिजनेस के फेल होने का मुख्य कारण यही है कि लोग बिजनेस तो शुरु कर लेते है लेकिन ज्यादा पैसे कमाने के चक्कर में वे अपने प्रोडक्ट या सर्विस की गुणवत्ता के साथ कंप्रोमाइज कर लेते है और लोगों को खराब या कम गुणवत्ता युक्त प्रोडक्ट या सर्विस प्रदान करते है।

जिससे वे कम लागत के कारण बाजार में शुरुआती कुछ समय के लिए कुछ पैसे कमा लेते है और बाद में, जब लोगों को उनके प्रोडक्ट या सर्विस के बार में पता चलता है तब वे दोबारा उस प्रोडक्ट या सर्विस का उपयोग नहीं करते है और अपने बिजनेस में बुरी तरह विफल हो जाते है।

किसी के साथ धोखा नहीं करना 

कोई भी बिजनेस हो कभी भी किसी के साथ धोखा नहीं करना चाहिए। एक बार आपने धोखा कर लिया और खुश हो गये कि हमने पैसे कमा लिए तो यह आपकी सबसे बड़ी भूल है क्योंकि ग्राहक एक बार आपको पैसे दे देगा लेकिन याद रखना, वह ग्राहक आपके प्रोडक्ट और सर्विस को कभी भी दूसरी बार प्रयोग नहीं करेंगा।

हर बिजनेस की सफलात का मुख्य राज बार-बार ग्राहकों का आना (Recurring Customers) होता है, जब तक ग्राहक बार-बार आपके साथ नहीं जुड़ेंगे, तब तक कोई भी बिजनेस बाजार में सफल नहीं हो सकता इसलिए आप आज से यह नियम बना लें कि हम किसी के साथ किसी भी प्रकार का धोखा नहीं करेंगे, चाहे कुछ भी हो जाएं।

व्यापार में ग्राहक के साथ धोखे का मतलब व्यापार की ग्रोथ को रोकना होता है लेकिन ज्यादातर लोग अपने हित के लिए ग्राहकों के साथ धोखा करते है और आज ज्यादातर बिजनेस में यह हो रहा है इस कारण ज्यादातर स्टार्टअप और बिजनेस असफल होते जा रहे है।

बड़े बिजनेस जैसे रिलायंस इंडस्ट्री, टाटा मॉटर्स, गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, अमेजॉन आदि आज सफल और बाजार में बने हुए है क्योंकि ये बिजनेस अपने ग्राहकों को प्राथमिकता पहले देते है और अपने ग्राहकों के साथ किसी भी प्रकार का धोखा नहीं करते है इसलिए लोग आज इन बड़े बिजनेस ब्रांड पर ज्यादा भरोसा करते है और ग्राहक बार-बार इन बिजनेस की सेवा लेना प्रसंद करते है।

कर्मचारियों के साथ अच्छा व्यवहार 

बिजनेस को सफल बनाने में कर्मचारियों की अहम भूमिका होती है इसलिए अपने कर्मचारियों के साथ हमेशा अच्छा व्यवहार करें और उनको अपना मानते हुए उनके साथ एक परिवार के सदस्य की तरह व्यवहार करें। कर्मचारियों के साथ अच्छा व्यवहार ही आपके बिजनेस को अंदर से मजबूत करेंगा और आप बाजार में लंबे समय तक बने रहेंगे।

अगर आप अपने कर्मचारियों को खुश रखते हुए किसी भी बिजनेस आइडिया पर काम कर रहे है तो आपकी सफलता की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि एक अच्छी टीम ही हर बिजनेस को सफल बनाती है। हम उम्मीद करते हैं कि आप इस Business Ethics in Hindi का पालन करके अपनी ग्रोथ को मल्टीप्लाई करने में सक्षम होंगे।

जितना आपका कर्मचारी आपके प्रति वफादार होगा और ऊर्जावान होगा तो आपका बिजनेस भी उतनी तेजी से ग्रोथ करने लगेंगा इसलिए इस बिजनेस नैतिकता को आप अपने वर्कप्लेस पर अपनाकर अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकते है और अपने कर्मचारियों की खुशियों और ग्रोथ में महत्वपूर्ण हिस्सा बन सकते हैं।

विश्वास जीतना (विश्वसनीयता)

हर बिजनेस को सफल होने के लिए लोगों का विश्वास जीतना बहुत आवश्यक है और विश्वास तभी जीता जाता है जब आप और आपकी टीम लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करते है और लोगों को अपनी सर्विस या प्रोडक्ट के माध्यम से कुछ वैल्यू प्रदान करते है इसलिए हमेशा लोगों को अच्छी गुणवत्ता युक्त सर्विस या प्रोडक्ट ही प्रदान करें।

हर बिजनेसमैन में यह आत्मविश्वास होना चाहिए कि मैं लोगों को अपने बिजनेस के माध्यम से जो भी प्रदान करूंगा वह लोगों के जीवन को सरल बनाएंगा या कुछ वैल्यू प्रदान करेंगा, मेरी सर्विस या प्रोडक्ट के बारे में जो भी जानकारी प्रदान की जाएंगी वह पूर्णतया सत्य होगी।

अगर कोई भी गलती या कमी प्रोडक्ट या सर्विस में होती है तो तुरन्त ग्राहक की मदद करने के साथ समाधान किया जाएंगा और अगर जरूरत पड़ती है तो ग्राहक को पैसे रिफंड किये जाएंगे। लोगों का विश्वास जीतकर ही आप अपने व्यापार को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते है।

किसी का पक्ष न लेना (निष्पक्षता)

किसी भी प्रोडक्ट को बनाने या सर्विस प्रदान करने के लिए निष्पक्षता बहुत आवश्यक होती है, बिना किसी भेद-भाव के प्रोडक्ट सबके लिए बनाना और उस प्रोडक्ट से सभी को लाभ मिलना किसी भी बिजनेस की सफलता के लिए बहुत जरूरी होता है।

बिना किसी भेद-भाव से योग्य कर्मचारियों को अपने वर्कप्लेस पर जगह देना और किसी भी कर्मचारी के साथ किसी भी तरह का भेद-भाव नहीं करना सच्ची बिजनेस नैतिकता है और हर बिजनेस की आधी सफलता इस पर ही निर्भर करती है। किसी भी बिजनेस की सफलता का मूल रहस्य उसकी निष्पक्षता में है।

बिजनेस निष्पक्षता से मतलब यहां किसी के साथ भेद-भाव करना नहीं बल्कि सभी लोगों को अच्छी सर्विस मिले और वह सर्विस सभी के लिए समान लाभदायक हो। कोई भी प्रोडक्ट किसी के लिए अच्छा और किसी के लिए बुरा नहीं होना चाहिए बल्कि सभी के लिए एक समान और समान लाभदायक होना चाहिए।

जहाँ आवश्यक हो वहाँ पारदर्शिता रखना

किसी भी बिजनेस के लिए जहां जरूरी हो पारदर्शी होना बहुत आवश्यक है। यह बिजनेस नैतिकता का नियम है कि जब तक लोगों को आपके बिजनेस के बारे में जरूरी जानकारी नहीं होगी तब तक लोग आपके बिजनेस पर कैसे विश्वास करेंगे और आप विश्वास के बिना आगे नहीं बढ़ पाएंगे इसलिए जहां आवश्यक है आपको आपके काम, सर्विस या प्रोडक्ट के बारे में सही जानकारी प्रदान करवानी चाहिए।

बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन में टीम के साथ भी जरूरी पारदर्शिता होनी चाहिए जिससे आपकी टीम बिजनेस पॉलिसी के अनुसार काम कर सकें। टीम को लगे की हमारा लक्ष्य क्या है और हमें इसे प्राप्त करने के लिए किस तरह से काम करना चाहिए।

किसी भी बिजनेस की लगातार ग्रोथ और आत्मविश्वास बनाएं रखना पारदर्शिता यानी स्पष्टता पर ही निर्भर करता है, आपका बिजनेस जितना पारदर्शी या ट्रांसपेरेंट होगा, उतनी अच्छी ग्रोथ मिलेगी। अपने व्यापार की मार्केटिंग करते हुए आप अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में पूरी व सही जानकारी दें ताकि लोगों को विश्वास हो जाए कि आपका प्रोडक्ट या सर्विस उनके लिए बेस्ट है।

अपनी जिम्मेदारी तय करना

चाहे वह बिजनेस हो या जीवन आपको हमेशा अपनी जिम्मेदारी तय करनी पड़ेगी और उस जिम्मेदारी को पूरा करने के लिए पूरी जी जान से मेहनत करनी पड़ेगी, तभी आप एक सफल उद्यमी बन पाएंगे। बिना जिम्मेदारी तय किये आप पैसे तो कमा सकते है लेकिन एक आत्म-समान पूर्ण जीवन नहीं जी पाएंगे। हमें सिर्फ पैसे ही नहीं कमाने है बल्कि पैसों के साथ-साथ आत्म-समान पूर्ण जीवन भी जीना है।

समाज के प्रति जिम्मेदारी लेने और निभाने से बाजार में हमारी एक अलग ही इमेज बनती है जिसके कारण लोग हम पर विश्वास करते है। इससे हमारा बिजनेस तो बढ़ता ही है लेकिन इसके साथ हमारा एक ब्राण्ड नाम बनता जाता है जो बहुत लंबे समय तक बाजार में विद्यमान रहता है।

अगर आपकी सर्विस में कोई कमी है और आप इसे स्वीकार नहीं करते तो आपके कस्टमर तो कम होंगे ही, साथ में खराब मार्केटिंग के कारण निश्चित रूप से आपका बिजनेस भी असफल हो जाएंगा। इसलिए, आपको आपके प्रोडक्ट या सर्विस की हमेशा जिम्मेदारी लेनी चाहिए और लोगों को जितना संभव हो सके अपनी बेस्ट सर्विस से संतुष्ट करने की कोशिश करें।

प्रकृति का ध्यान रखना

अगर आपका बिजनेस मैन्युफैक्चरिंग लाइन का है तो प्रकृति को हानि पहुंचाए बिना काम करना होगा। वैसे तो सरकार ने प्रकृति को बचाने के लिए कई कानून बनाए है लेकिन यह जिम्मेदारी सरकार की नहीं बल्कि हमारी है कि हमारे हित के लिए प्रकृति को नुकसान नहीं पहुंचाना है। अगर हम ऐसा नहीं करते है तो यह बिजनेस नैतिकता के विरुध्द माना जाता है।

प्रकृति को बचाना हम सभी का दायित्व है इसलिए जितना संभव हो सके प्रकृति को कम से कम हानि पहुंचाते हुए अपने बिजनेस को आगे बढ़ाना चाहिए। अपने हित के लिए हम सभी प्राणियों को संकट में नहीं डाल सकते।

हां, मैं मानता हूं कि मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में प्रदूषण होता है लेकिन जितना संभव हो सके इसको कम से कम करने की कोशिश करें और यही बिजनेस नैतिकता का मुख्य उद्देश्य है कि लोगों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं मिलें और कम से कम समस्याओं का सामना करना पड़ें।  

शुरुआत से ही ईमानदारी रखना

बिजनेस नैतिकता का यह नियम हर बिजनेस को सफल बनाने के लिए अति आवश्यक है और व्यापार में सफलता प्राप्त करने का मुख्य राज व मंत्र है। यदि आप बाजार में अच्छी प्रतिष्ठा प्राप्त करना चाहते हैं और उच्च विकास प्राप्त करना चाहते हैं तो ईमानदारी एक ऐसा माध्यम है जिसे न केवल व्यवसाय में बल्कि जीवन में भी सफल होने का मुख्य साधन माना जाता है।

ईमानदरी के बिना कोई भी बिजनेस चाहे वह स्टार्टअप, घरेलू कार्य या बिजनेस, ऑनलाइन बिजनेस, मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस, कोई भी सर्विस या अन्य बिजनेस लंबे समय तक सरवाइव नहीं कर सकता इसलिए शुरुआत से ही कोई भी काम करें तो पुरी ईमानदारी से करें।

आज हमारे सामने हजारों अच्छे बिजनेस और काम है जो ईमानदारी की सहायता से किये जा सकते है, जब हमारें सामने हजारों अच्छे अवसर मौजूद है तो गलत या बेईमानी से कोई काम क्यों करना, जबकि हमें पता होता है कि यह रास्ता असफलता की ओर ले जाएंगा।

अपने वचन एवं वादे को पूरा करना

बिजनेस का यह उसूल है कि जब कभी भी किसी से वादा कर दिया या वचन दे दिया तो उसे हर हाल में पूरा करना पड़ता है, अगर आप ऐसा नहीं कर पाते तो लोगों का भरोसा खो देंगे और धीरे-धीरे आपकी गुडविल खराब होने के साथ आपके बिजनेस का पतन हो जाएंगा।

जब तक आप अपने शब्दों पर खरे नहीं उतरेंगे तब तक लोगों को आप पर भरोसा कैसे होगा इसलिए या तो आप किसी से वादा ना करें, अगर करें तो उसे हर हाल में पूरा करें।

आपने किसी को एक निश्चित दिनांक को पैसे देने का का वचन दिया और आप उसे पूरा नहीं कर पाएं तो आपकी गुडविल बाजार में खराब होगी या आपने वचन दिया कि मैं इस समय वहां पहुंच जाउंगा तो आपको हर हाल में वहां पहुंचना ही है जब तक कोई अनहोनी ना हो जाएं।

व्यवसाय में समय का पाबंद रहना

बिजनेस की सफलता में समय का बहुत बड़ा रोल होता है, ज्यादातर नए स्टार्टअप या उद्यमी समय को ज्यादा तवज्जो नहीं देते है और बहुत जल्दी फेल हो जाते है। समय बिजनेस नैतिकता का मुख्य आधार है, अगर किसी ने इसका कड़ाई से पालन नहीं किया तो यह अपनी गति से चला जाएंगा लेकिन पिछे आपको भटकने के लिए छोड़ देगा।

जीवन और बिजनेस में सफलता का सबसे पहला रहस्य समय का पूरा उपयोग करना और उसका सही तरह से पालन करना है। समय एक ऐसा चक्र है जो हमेशा अपनी गति से चलता रहता है, अगर इसके साथ हम अपना विकास नहीं कर पाते हैं तो हमारा फ्यूचर कभी भी अच्छा नहीं बन सकता।

आपको बिजनेस के काम का समय फिक्स करना चाहिए, आपको हर जगह समय पर पहुंचना पड़ेगा और समय पर हर काम समाप्त करना होगा तभी आपका बिजनेस सफलता की ऊंचाईयों पर पहुंच पाएंगा। हर काम समय पर करने से आपकी गुडविल एक अच्छे बिजनेसमैन की तरह बनेगी जिससे लोग आप पर विश्वास कर पाएंगे।

ग्राहकों का सम्मान करना

ऑनलाइन बिजनेस हो या ऑफलाइन हर बिजनेस को सफलता के लिए ग्राहकों का सम्मान करना ही चाहिए क्योंकि हर बिजनेस ग्राहकों पर आधारित होता है। जरा आप भी सोचे कि ग्राहकों की अनुपस्थिति में किसी बिजनेस की क्या वैल्यू है और क्या वह बिजनेस बिना ग्राहकों के ग्रोथ कर सकता है?

अगर ग्राहक नहीं होगे तो बिजनेस कैसे चलेगा इसलिए जब कभी भी बिजनेस शुरु करने के बारे में सोचें या वर्तमान बिजनेस को आगे बढ़ाना चाहते है तो यह दिमाग में बैठा ले कि मुझे ग्राहकों की जरूरतों को सर्वोपरि रखना है, मेरे बिजनेस या सर्विस के माध्यम से अच्छी से अच्छी सुविधाएं मिले और कम से कम समस्याएं हो, अगर कोई समस्या आती है तो हम तुरंत उस ग्राहक की सहायता करेंगे।

हर बिजनेस की सफलता का राज यही है। आप इंटरनेट पर हजारों उदाहरण देख सकते है जो बिजनेस बहुत सफल है वे अपने ग्राहकों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं प्रदान करवाते है और अपने ग्राहकों से प्यार करते है। जब ग्राहकों को अच्छी सुविधा मिलती है तो वे उस बिजनेस के साथ हमेशा के लिए जुड़ जाते है। इसलिए आपके ऑर्गेनाइजेशन पर जो भी आए उसका सम्मान करना सीखें, तभी आप बाजार में लंबे समय तक बने रह पाएंगे।

बिजनेस नैतिकता की पीडीएफ फाइल डाउनलोड करें (Download PDF File of Business Ethics in Hindi)

हम आशा करते है कि आप अपने बिजनेस में बिजनेस नैतिकता (Business Ethics in Hindi) के इन सभी बिंदुओं को अपनाएंगे और सभी लोगों को अपना मानते हुए काम करेंगे। आपका बिजनेस हमेशा आगे बढ़ता रहें और आप इस प्यारी दुनिया को अपने बेस्ट कर्मों द्वारा कुछ नया और अच्छा प्रदान करते रहें, यही हमारी और आपकी सच्ची सफलता है।