आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस कैसे शुरू करें?

यदि आप जानना चाहते है कि आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस कैसे शुरू करें (Artificial Jewellery Business kaise kare) या फैशन ज्वैलरी बिजनेस कैसे शुरू करें, तो हम आपको इस बारे में बता रहे हैं। आप इमिटेशन ज्वैलरी बिजनेस यानी नकली गहने का स्टोर व बिजनेस बहुत ही कम पैसों में शुरू कर सकते हैं।

भारत में फैशन ज्वैलरी या आर्टिफिशियल ज्वैलरी का बिजनेस तेजी से फलफूल रहा है, इस बिजनेस में अपार संभावनाएं होने के कारण नए-पुराने लोग आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस शुरू कर रहे हैं और रोज नए बेस्ट आर्टिफिशियल ज्वैलरी ब्रांड बाजार में आ रहे है।

आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस कैसे शुरू करें?

नकली आभूषण व्यवसाय भारत के सबसे बड़े उद्योगों में से एक बन गया है। कृत्रिम आभूषण लागत प्रभावी आभूषण हैं। यह एक मिथक है कि केवल मध्यम वर्ग और गरीब लोग नकली आभूषणों को पसंद करते है।

कम लागत और आकर्षक डिजाइनों को देखते हुए, कई मशहूर हस्तियों को कृत्रिम आभूषण आकर्षक दिखने के लिए पहने देखा गया है और हमेशा पहनते हैं।

यह बिजनेस आपको लगभग 50 से 150% तक लाभ दे सकता है। यदि आपकी नकली आभूषण व्यवसाय की दुकान अच्छी जगह पर है तो आपका लाभ अधिक हो सकता है।

अगर आप आर्टिफिशियल ज्वैलरी ऑनलाइन बेचते हैं तो बाजार की प्रतिस्पर्धा के अनुसार आपका लाभ भिन्न हो सकता है लेकिन, सेल्स ज्यादा होने के कारण, महीने के अंत में बैलेंसशीट में प्रॉफिट ऑफलाइन के मुकाबले ज्यादा होता है।

Artificial Jewellery Business शुरू करने के स्टेप्स

फैशनेबल या नकली आभूषण बिजनेस शुरू करने से पहले, कृपया बाजार की बुनियादी जानकारियां प्राप्त करें। अगर आप प्योर ज्वैलरी का बिजनेस भी करना चाहते हैं तो बाजार में बहुत सारे बेस्ट सोने और हीरे के ज्‍वैलरी ब्रांड उपलब्ध है।

जल्दबाजी में बिजनेस शुरू न करें, बिजनेस की पूरी जानकारी हासिल करें ताकि शुरुआत से ही आपको सफलता मिल सके और आप बड़े नुकसान से बच सकें। आइए जानते हैं भारत में आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस शुरू करने के मुख्य स्टेप्स के बारे में।

आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर शुरू करने के लिए अपना बजट तय करें

सबसे पहले आपको अपना बजट तय करना चाहिए कि आप आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर शुरू करने के लिए कितना निवेश कर सकते हैं।

वैसे तो आर्टिफिशियल ज्वैलरी का बिजनेस लगभग ₹ 70,000 से 1,00,000 में शुरू हो जाता है लेकिन आप अपनी निवेश क्षमता तय करें और उसी के अनुसार पूरी प्लानिंग करें ताकि आपको अपना काम शुरू करने के बाद किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर के लिए अच्छे क्षेत्र और स्थान की पहचान करें

आपको अपने आस-पास का क्षेत्र ढूंढना चाहिए जहाँ आप आसानी से फैशन ज्वैलरी स्टोर व्यवसाय चला सकें। आपको कम से कम 8000 लोगों की भीड़ वाले क्षेत्र में अपना आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर शुरू करने की आवश्यकता है।

आपकी दुकान या स्टोर ऐसी जगह होनी चाहिए जहां लोग आसानी से आ सकें और आपकी दुकान बाहरी लोगों को आसानी से दिखाई दे।

आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर का किराया कितना होता है?

आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर की कीमत गांव, छोटे शहर या बड़े शहर के एरिया के अनुसार अलग-अलग हो सकती है इसलिए इसकी अच्छी तरह से जांच पड़ताल कर ले। आपके फैशन ज्वैलरी स्टोर का किराया –

  • गांव में ₹ 2,500-8,000 हो सकता है।
  • छोटे शहर में ₹ 5,000-30,000 हो सकता है।
  • बड़े शहर में ₹ 10,000-1,00,000 तक हो सकता है।

आपके फैशन स्टोर या दुकान का किराया स्टोर के साइज और लोकेशन पर निर्भर करता है इसीलिए यह एरिया टू एरिया अलग-अलग हो सकता है।

हमारी सलाह के अनुसार एक अच्छे भीड़भाड़ वाले विजिबल मार्केट प्लेस पर ही आपका आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर होना चाहिए।

Artificial Jewellery स्टोर के लिए फर्नीचर और इंटीरियर सेटअप की कीमत

एक 15 बाई 20 छोटे आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर के लिए फर्नीचर और इंटीरियर की लागत कम से कम ₹40,000 होती है। लेकिन, यह लागत आपके स्टोर की साइज और डिजाइन के अनुसार अलग अलग हो सकती है।

यह पूरी तरह से आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप अपने स्टोर को किस तरह से डिजाइन करते हैं और किस तरह से लोगों को अट्रैक्टिव दिखाना चाहते हैं।

फैशनेबल ज्वैलरी मार्केट की पहचान करें

आपको अपने आस-पास फैशनेबल ज्वैलरी मार्केट ढूंढ़ना चाहिए और आपको कम से कम 20 से 30 दिनों के लिए उचित मार्केट रिसर्च करने के लिए वहां जाना चाहिए, ताकि आपको ज्वैलरी बिजनेस के बारे में लगभग बेसिक जानकारी मिल सके।

इसके साथ ही आपको ज्वैलरी बिजनेस के होलसेल मार्केट की भी पहचान करनी होगी जहां से आप न्यूनतम कीमत और कम परिवहन लागत पर उत्पाद या सामान मंगवा सकते हैं।

आप दिल्ली, मुंबई या आपके पास के किसी बड़े महानगर को ज्वैलरी आइटम थोक में मंगवाने के लिए चुन सकते हैं, जहां बहुत कम कीमत पर सामान उपलब्ध हो।

फैशन ज्वैलरी बिजनेस के लिए अपने ग्राहकों को पहचानें

उसके बाद, आपको कृत्रिम आभूषण व्यवसाय शुरू करने के लिए अपने ग्राहकों को ढूंढना होगा, ग्राहकों को खोजने के लिए आप लोगों से संपर्क कर सकते हैं कि हम अपने स्टोर में फैशनेबल ज्वैलरी आइटम रखते हैं और ये आपको न्यूनतम कीमत पर उपलब्ध होंगे।

अपने ग्राहकों का सम्मान करें, उन्हें अपने स्टोर पर पूरा सम्मान दें ताकि वे बार-बार आपके स्टोर पर आएं और आपकी बिक्री में वृद्धि करें।

अपने फैशन आभूषण व्यवसाय की मार्केटिंग करें

आपने अपनी ज्वैलरी की दुकान खोल ली है, अब आपको अपने व्यवसाय की मार्केटिंग शुरू करनी है। आप ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी मार्केटिंग कर सकते हैं।

हमारे अनुसार आपको Google, Facebook, Instagram, YouTube आदि के माध्यम से ऑनलाइन मार्केटिंग के साथ जाना चाहिए।

यहाँ, बहुत कम लागत पर अच्छा आउटपुट प्राप्त होता है और आपका व्यवसाय बहुत तेज़ी से बढ़ता है। आपके आभूषण व्यवसाय के लिए मार्केटिंग बहुत महत्वपूर्ण है।

आपको मार्केटिंग बजट अलग से तय करना होगा और त्वरित प्रतिक्रिया के लिए उचित योजना बनानी होगी।

आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस में कितना लाभ होता है?

फैशन और आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस में 50 से 150% तक लाभ मार्जिन होता है। यह प्रॉफिट मार्जिन एरिया टू एरिया अलग-अलग हो सकता है।

अगर आपका स्टोर किसी बड़े शहर में अच्छी लोकेशन पर है तो यह प्रॉफिट मार्जिन ओर ज्यादा हो सकता है और अगर आपका स्टोर गांव में है तो यह प्रॉफिट मार्जिन लगभग 50 परसेंट के आसपास रह सकता है।

इसीलिए, ज्वैलरी स्टोर खोलने से पहले एरिया और स्थान की अच्छी तरह से जांच पड़ताल करें और उसके बाद ही स्टोर शुरू करें और धीरे-धीरे अपने आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस का विस्तार करें

क्या आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर का रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है?

नहीं, आर्टिफिशियल ज्वैलरी स्टोर का शुरुआत में रजिस्ट्रेशन करवाने की कोई आवश्यकता नहीं होती है लेकिन जब आपका वार्षिक टर्नओवर 20,00,000 रुपए से अधिक हो जाता है तो आपको जीएसटी नंबर लेने की आवश्यकता पढ़ती है।

हमारी सलाह के अनुसार आपको अपने स्टोर का एक अच्छा सा नाम डिसाइड करके रजिस्ट्रेशन करवा देना चाहिए और जीएसटी नंबर भी ले लेने चाहिए।

ताकि, आपका आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिज़नेस एक ब्रांड के रूप में एस्टेब्लिश हो सके और कानून की नजरों में भी एक अच्छी पहचान मिल सके।

निष्कर्ष

आज फैशन ज्वैलरी का बिजनेस शुरू करना कोई मुश्किल काम नहीं है, लेकिन इसके लिए सबसे पहले आपके पास दुकान खोलने के लिए कम से कम ₹70,000-1,00,000 का बजट होना चाहिए।

उसके बाद आपको बाजार की अच्छी जानकारी के साथ प्लानिंग करनी होगी ताकि बाद में आपको किसी प्रकार की परेशानी न हो।

आज फैशन ज्वैलरी व्यवसाय को ऑनलाइन तरीके से विस्तार करना आसान है क्योंकि यहां, न्यूनतम मार्केटिंग लागत और कम जगह में अच्छे और जल्दी परिणाम मिलते हैं।

आपका व्यवसाय ऑनलाइन तरीके से बहुत कम समय में अधिक लोगों तक पहुंच सकता है, इसलिए व्यवसाय का विस्तार करने के लिए, आपको ऑनलाइन विकल्प चुनना चाहिए।

आपको डिटेल में Artificial Jewellery Business kaise kare के बारे में प्रोपर प्लानिंग बनानी पड़ेगा तभी आप इस बिजनेस में सफल हो सकते है और अच्छा प्रोफिट कमा सकते है।