विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले 20 देश 2023

दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की बात करें तो अमेरिका, चीन और जापान तीन सबसे बड़ी प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं हैं। भारत सबसे बड़ी उभरती हुई अर्थव्यवस्था होने के साथ दुनिया की 10 सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की लिस्ट में छठे नंबर पर है।

किसी देश की आर्थिक ताकत उसके सकल घरेलू उत्पाद (GDP) से निर्धारित होती है। जिस देश की जीडीपी जितनी अधिक होगी, वह देश उतना ही आर्थिक रूप से मजबूत होगा और उस देश की आर्थिक अर्थव्यवस्था सबसे बड़ी होगी।

विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले 20 देश

नीचे दी गई दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं की सूची या विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देश की लिस्ट विश्व बैंक के डेटाबेस 2020 पर आधारित है। विश्व बैंक द्वारा 2023 में जब भी नई सूची प्रकाशित की जाएगी, हम इसे नए डेटाबेस के आधार पर अपडेट करेंगे।

संयुक्त राज्य अमेरिका

जीडीपी – $20.95 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $63,206

अमेरिका की अर्थव्यवस्था दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और टॉप 10 जीडीपी वाले देश 2023 में नंबर वन पर है। क्या आप जानते हैं कि दुनिया की 10 सबसे अमीर महिलाओं की लिस्ट में 6 अमेरिका की हैं। इसकी जीडीपी में सबसे बड़ा योगदान सेवा क्षेत्र, वित्त, रियल एस्टेट, बीमा, पेशेवर और व्यावसायिक सेवाएं और स्वास्थ्य सेवाएं शामिल हैं। अमेरिका विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश है।

चीन

जीडीपी – $14.72 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $10,434

चीन दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी जीडीपी वाली अर्थव्यवस्था है और अमेरिका के बाद, सबसे ज्यादा जीडीपी किस देश की है तो वह है – चीन। आने वाले कुछ सालों में चीन अमेरिका को पछाड़कर जीडीपी के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है। चीन विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला दूसरा देश है।

जापान

जीडीपी – $5.06 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $40,193

जापान दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। सरकार और उद्योग के बीच मजबूत सहयोग और उन्नत तकनीक ने विनिर्माण के कारण यह दुनिया की उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं में से एक है जिसमें सबसे बड़ा इलेक्ट्रॉनिक सामान उद्योग और पेटेंट फाइलिंग का योगदान है।

जर्मनी

जीडीपी – $3.85 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $46,252

दुनिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था जर्मनी है। यूरोप की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था भी मानी जाती है। जर्मनी भारी वाहनों, मशीनरी, रसायनों और अन्य विनिर्मित वस्तुओं का एक शीर्ष निर्यातक देश है और जर्मनी विकसित देशों की सूची में भी आता है।

यूनाइटेड किंगडम

जीडीपी – $2.76 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $41,059

यूनाइटेड किंगडम जीडीपी के मामले में दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। यूके की अर्थव्यवस्था सेवा क्षेत्र पर सबसे ज्यादा निर्भर करती है, जैसे वित्त, बीमा और व्यावसायिक सेवाएं आदि। ब्रिटेन अपनी प्रतिभा के बल पर विश्व मंच पर एक महान छवि रखता है।

भारत

जीडीपी – $2.66 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $1,927

भारत दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होने के साथ ग्रीन बैंकिंग को भी प्रोत्साहित कर रहा है। भारत की अर्थव्यवस्था आधुनिक उद्योग और मशीनीकृत कृषि के साथ-साथ पारंपरिक ग्रामीण खेती और हस्तशिल्प व सेवा सेक्टर का मिश्रण है। अगर आप जानना चाहते है कि विश्व अर्थव्यवस्था में भारत का स्थान कौन सा है? तो वह है छठा।

फ्रांस

जीडीपी – $2.63 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $39,037

फ्रांस विश्व अर्थव्यवस्था रैंकिंग 2023 list में सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। फ़्रांस एक मिश्रित अर्थव्यवस्था है, जिसमें पर्यटन एक महत्वपूर्ण उद्योग और रोजगार का माध्यम है। फ्रांस भी विश्व की आर्थिक और राजनीतिक गतिविधियों में महत्वपूर्ण भूमिका रखता है।

इटली

जीडीपी – $1.89 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $31,770

विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों में इटली दुनिया की आठवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। कमजोर बैंकिंग प्रणाली व लंबे समय से उच्च बेरोजगारी के कारण धीरे-धीरे उभरने की कोशिश कर रही है। इटली भारत की तरह एक विकासशील अर्थव्यवस्था मानी जाती है।

कनाडा

जीडीपी – $1.65 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $43,258

कनाडा दुनिया की नौवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। अमेरिका के साथ कनाडा के मुक्त व्यापार संबंध का मतलब है कि कनाडा का तीन-चौथाई निर्यात हर साल यू.एस. बाजार में होता है। अपनी मजबूत आर्थिक स्थिति के कारण यह अमेरिका जैसा समृद्ध व अमीर देश है।

दक्षिण कोरिया

जीडीपी – $1.64 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $31,597

जीडीपी के अनुसार दुनिया की शीर्ष 10 अर्थव्यवस्थाओं में विश्व की 10वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था दक्षिण कोरिया है। दक्षिण कोरिया ने हाल के दशकों में 58 देशों को कवर करते हुए मुक्त व्यापार समझौता किया है। दक्षिण कोरियाई लोग अपने पीढ़ीगत धन को बढ़ाने के साथ देश के वित्तीय स्थिति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है।

रूस

जीडीपी – $1.48 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $10,126

रूस दुनिया की 11वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। तेल और गैस के साथ-साथ अन्य खनिजों और धातुओं के एक प्रमुख निर्यातक के रूप में, रूस की अर्थव्यवस्था दुनिया की सबसे संवेदनशील अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। यूक्रेन-रूस युद्ध में रूसी अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ है, जिसकी भरपाई पिछले 10 साल में भी नहीं हो पाएंगी।

ब्राज़िल

जीडीपी – $1.44 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $6,796

ब्राजील दुनिया की 12वीं सबसे बड़ी सकल घरेलू उत्पाद वाली अर्थव्यवस्था है। ब्राजील की ज्यादातर अर्थव्यवस्था विमान व मोटर वाहन उत्पादन, खनिज व ऊर्जा संसाधन, कॉफी व सोयाबीन के निर्यात पर निर्भर करती है। विश्व के 1% धनी व्यक्तियों की एवरेज नेट वर्थ में ब्राजील के लोगों की अहम भूमिका है।

ऑस्ट्रेलिया

जीडीपी – $1.33 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $51,680

आस्ट्रेलिया दुनिया की 13वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। ऑस्ट्रेलिया एक अपेक्षाकृत खुली घरेलू अर्थव्यवस्था का दावा करता है जिसमें एशिया-प्रशांत रिम के आसपास के व्यापारिक भागीदारों के साथ मुक्त व्यापार समझौतों का एक व्यापक नेटवर्क है।

स्पेन

जीडीपी – $1.28 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $27,056

जीडीपी के हिसाब से स्पेन दुनिया की 14वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। स्पेन अपने बेस्ट बिजनेस आइडिया के कारण एक अलग ही पहचान बनाए हुए हैं। निर्मित मशीनरी और खाद्य पदार्थों सहित स्पेन के निर्यात करने की क्षमता में वृद्धि हुई है जिसके कारण यह विकसित और उभरती हुई अर्थव्यवस्था में से एक है।

मेक्सिको

जीडीपी – $1.07 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $8,329

विश्व अर्थव्यवस्था रैंकिंग लिस्ट 2023 में दुनिया की 15वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था मेक्सिको की है। पिछले तीन दशकों में, मेक्सिको अमेरिका, कनाडा और 44 अन्य देशों के साथ मुक्त व्यापार समझौतों की एक श्रृंखला के तहत एक विनिर्माण अर्थव्यवस्था के रूप में उभरा है।

इंडोनेशिया

जीडीपी – $1.06 ट्रिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $3,869

इंडोनेशिया दुनिया की 16वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। इंडोनेशिया की अर्थव्यवस्था दक्षिण पूर्व एशिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और यह बड़े पैमाने पर वस्तु निर्यात उद्योगों पर आधारित है। प्रमुख निर्यात में कोयला और पेट्रोलियम उत्पाद शामिल हैं।

नीदरलैंड

जीडीपी – $913.86 बिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $52,396

नीदरलैंड दुनिया की 17वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। नीदरलैंड कुछ औद्योगिक विनिर्माण के साथ-साथ पेट्रोलियम निष्कर्षण और प्रसंस्करण के साथ एक प्रमुख वाणिज्यिक परिवहन केंद्र है जो विश्व की वित्तीय स्थिति में एक महत्वपूर्ण योगदान निभा रहा है।

स्विट्ज़रलैंड

जीडीपी – $752.25 बिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $87,100

स्विट्जरलैंड दुनिया की 18वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। स्विट्ज़रलैंड में वित्तीय सेवाओं सहित एक विस्तृत सर्विस सेक्टर के साथ उच्च-तकनीकी विनिर्माण क्षेत्र इसकी अर्थव्यवस्था को संभाले हुए हैं। इसका बैंकिंग सेक्टर विश्व पटल पर एक मजबूत सेक्टर उभरकर सामने आया है।

टर्की

जीडीपी – $719.95 बिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $8,536

टर्की दुनिया की 19वीं जीडीपी के अनुसार सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। प्रमुख उद्योगों में इलेक्ट्रॉनिक्स, पेट्रोकेमिकल्स और ऑटोमोटिव उत्पादन के साथ एक विस्तृत औद्योगिक और सर्विस सेक्टर शामिल है। तुर्की एक ऐतिहासिक अर्थव्यवस्था है जिसका भारतीय पुस्तकों में एक मजबूत इतिहास है।

सऊदी अरब

जीडीपी – $700.12 बिलियन

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – $20,110

सऊदी अरब सकल घरेलू उत्पाद के आधार पर दुनिया की 20वीं सबसे बड़ी उभरती हुई अर्थव्यवस्था है। इसकी अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से तेल पर आधारित होने के कारण यह दुनिया का सबसे बड़ा तेल निर्यातक देश भी है। सऊदी अरब अपनी कानून व्यवस्था के लिए जाना जाता है और यहां के लोग सबसे अमीर जीवन जीते हैं।

नोट (Note)

सकल घरेलू उत्पाद (GDP) – एक वर्ष के भीतर घरेलू स्तर पर उत्पन्न सभी राजस्व का योग है। सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) एक निर्दिष्ट अवधि के दौरान, आमतौर पर एक वर्ष के दौरान देश की सीमाओं के भीतर उत्पादित तैयार माल और सेवाओं के कुल मूल्य का एक अनुमान है।

प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद – यह नॉमिनल जीडीपी है जिसे किसी देश में लोगों की संख्या से विभाजित किया जाता है। जीडीपी प्रति व्यक्ति यह मापता है कि किसी देश की अर्थव्यवस्था कुल के बजाय प्रति व्यक्ति कितना उत्पादन करती है।